केंद्रीय मंत्री से मंगल पांडेय ने की मुलाकात, AES और इंसेफेलाइटिस की दी जानकारी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने मुलाकात की. मंगल पांडेय ने डॉ. हर्षवर्धन से मुलाकात के दौरान प्रदेश के स्वास्थ्य योजननाओं समेत कई मुद्दों पर बातचीत की गई. मंगल पांडेय ने अपने प्रदेश के स्वास्थ्य संबंधित सभी विषयों पर जानकारी दी. प्रदेश में स्वास्थ्य संबंधित कठिनाइयों के बारे में गहन बातचीत हुई.

केंद्रीय मंत्री ने मंगल पांडेय के साथ मुजफ्फरपुर में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) और गया में जापानी इंसेफेलाइटिस (जेई) के बढ़ते मामलों की समीक्षा की. डॉ. हर्षवर्धन ने प्रसव के दौरान मातृ मृत्‍यु दर (एमएमआर) में गिरावट के लिए राज्य की सराहना की. स्वास्थ्य मंत्री ने मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों को राज्य और जिलों के अधिकारियों के साथ खासकर मुजफ्फरपुर जिले में बीमारी और इससे होनेवाली मौतों में वृद्धि के बारे में चर्चा करने का निर्देश दिया है.

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि उन्‍होंने मंत्रालय को राज्य सरकार को सभी मदद मुहैया कराने का निर्देश दिया है. उन्‍होंने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) को रोकने के लिए ग्लूकोज युक्‍त पौष्टिक भोजन के वितरण के लिए महिला और बाल विकास मंत्रालय के साथ समन्वय कर रहा है. स्वास्थ्य मंत्री प्रभावित जिलों में स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं. वे भविष्य में राज्‍य में एईएस मामलों और केंद्रीय स्वास्थ्य योजनाओं की समीक्षा के लिए उचित समय पर बिहार जाएंगे. बिहार में जनवरी 2019 से आठ जून तक एईएस के कुल 48 मामले सामने आए और इससे 11 लोगों की मौत हो गई.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने एक बयान दिया. ANM को टैबलेट और बायोमेट्रिक डिवाइस दिया गया. उन्होंने कहा कि एएनएम भी डिजिटल इंडिया की तरह काम करेंगी. यह कल्पना अब सरकार में हो रहा है. मंगल पांडेय ने कहा कि महिलाओं और अन्य काम की जानकारी एएनएम रखेगी. इस तकनीक में बिहार की सहभागिता हो रही है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*