पहले चरण के चुनाव के बाद मांझी के सुर बदले, कहा- शराबबंदी कानून की समीक्षा जरुरी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में शामिल हुए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम के अध्यक्ष जीतन राम मांझी के सुर अब बदले हुए से नज़र आ रहे हैं. दरअसल, पहले चरण का चुनाव हो चुका है. और गया के इमामगंज से चुनाव मैदान में खड़े हुए मांझी के पक्ष में वोट पड़ चुके है.

जिसके बाद अब मांझी चुनाव के दबाव से मुक्त हो गए हैं और बयानबाजी शुरू कर दिया है. उन्होंने बिहार में लागू शराबबंदी को लेकर कई सवाल खड़े कर दिए हैं. उन्होंने कहा है कि शराबबंदी कानून की समीक्षा करने की जरूरत है. शराबबंदी कानून के कारण बड़ी तादाद में लोग गिरफ्तार हुए हैं. जिनमें बेकसूर लोग भी शामिल हैं.



आपको बता दें कि इस चुनावी मैदान में उनके दामाद देवेंद्र मांझी मखदुमपुर और उनकी समधन ज्योति बाराचट्टी चुनावी मैदान में उतरे थे. अब दूसरे और तीसरे चरण का चुनाव होना बाकी है. और 10 नवंबर को ही इस बात का फिसला होगा कि कौन जीतेगा और कौन हारेगा.