‘खराब नीयत से लगाए थे आरोप, साजिश थी कांग्रेस के खिलाफ’

manmohan-singh
मनमोहन सिंह (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : आज गुरुवार को बड़ा फैसला आया. बहु चर्चित 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला मामले की सुनवाई कर रही एक विशेष अदालत ने पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा और द्रमुक नेता कनिमोई दोनों को बरी कर दिया. इसके बाद कांग्रेस से खुल कर बयान सामने आने लगा. इस पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने बड़ा बयान दिया है.2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में सभी आरोपियों को बरी किए जाने का फैसला आने के बाद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि उनके खिलाफ जो प्रोपेगैंडा फैलाया गया था आज उसका जवाब मिला है.

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि खराब नीयत से आरोप लगाए गए थे और ये सारे आरोप राजनीतिक प्रोपेगेंडा था. उन्होंने कहा कि यूपीए-1 के खिलाफ यह साजिश थी. वहीं पी. चिदंबरम ने कहा की कोर्ट के फैसले के बाद साबित हो गया है कि उनकी सरकार पर जो भी आरोप लगाए गए वो झूठे निकले. 2जी स्कैम में विशेष कोर्ट का फैसला : ए. राजा और कनिमोझी समेत सभी आरोपी बरी



कनिमोई और ए राजा

बता दें कि 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला मामले की सुनवाई कर रही एक विशेष अदालत ने पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा और द्रमुक नेता कनिमोई दोनों को आज इस मामले में बरी कर दिया. अदालत ने इस मामले में अन्य 15 आरोपियों और तीन कंपनियों को भी बरी कर दिया है. कोर्ट का फैसला सुनकर कनिमोई रो पड़ीं और बोलीं, मैं उन सभी लोगों को धन्यवाद कहना चाहूंगी जो मेरे साथ खड़े रहे. वहीं ए राजा ने कहा कि मैं इस फैसले से बहुत खुश हूं.

वहीं इस मामले में कपिल सिब्‍बल ने कहा कि 2जी स्‍पेक्‍ट्रम आवंटन पर हमारा ‘जीरो लॉस’ का दावा सिद्ध हो गया और ये मामला संसद में उठाएंगे. कोर्ट के फैसले के बाहर समर्थकों में उत्साह देखा गया और लोगों ने पटियाला हाउस कोर्ट के बाहर आतिशबाजी भी की.