मैट्रिक-इंटर की कॉपी जांच के लिए शिक्षक को मिलेंगे 16 और 20 रुपये

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटर और मैट्रिक परीक्षा की कॉपियों की जांच के लिए मूल्यांकन केन्द्र तय कर दिया गया है. इंटर परीक्षा की कॉपियों की जांच के लिए पांच केन्द्र बनाए गए हैं. जबकि मैट्रिक परीक्षा की कॉपियों के लिए छह केंद्र बनाए गए हैं. कॉपियों के मूल्यांकन को लेकर जिला शिक्षा विभाग की ओर से तैयारी शुरू कर दी गई है.

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने मूल्यांकन से पूर्व केंद्र निदेशक को प्रशिक्षित करने का फैसला लिया है. इसके लिए आगामी 17 फरवरी को पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल, गांधी मैदान में कार्यशाला आयोजित की गई थी. इसमें केंद्र निदेशक के अलावा कंप्यूटर व डाटा इन्ट्री ऑपरेटर को भी प्रशिक्षित किया जाएगा.

बीएसईबी के तरफ से निर्देश जारी करके कहा गया है कि मैट्रिक की कॉपी जांचने के लिए शिक्षक को 16 रुपए जबकि इंटर की कॉपी जांचने के लिए 20 रुपए मिलेंगे. उन्होंने यह भी कहा है कि कोई भी शिक्षक एक दिन में 40 से अधिक कॉपी नहीं जांच सकते.

इंटर और मैट्रिक की परीक्षा के बाद मूल्यांकन कार्य शुरू करने के लिए बिहार बोर्ड ने तैयारी शुरू कर दी है. इस बार प्रदेश भर में बनाए गए 443 मूल्यांकन केंद्रों मेंइंटर के लिए 194 और मैट्रिक के लिए 249 मूल्यांकन केंद्र हैं. जिन स्कूल और कॉलेजों में मूल्यांकन केंद्र बनाया जाना है, वहां के प्राचार्य को इसकी जानकारी दे दी गई है. स्कूल और कॉलेज प्राचार्य से नाम मांगा गया है. इसके लिए बोर्ड ने 28 जनवरी तक का समय दिया है.

बोर्ड की मानें तो मूल्यांकन के लिए जिला वार केंद्र बनाए गए हैं. सभी केंद्रों पर अलग-अलग निदेशक नियुक्त किये जाएंगे. इस बार मूल्यांकन केंद्र के लिए राजकीय, राजकीयकृत, प्लस टू माध्यमिक विद्यालयों को प्राथमिकता दी जाएगी. अगर किसी कारण से प्राचार्य केंद्र निदेशक नहीं बन पाते हैं तो ऐसी स्थिति में स्कूल के वरीय शिक्षक में किसी एक को केंद्र निदेशक बनाया जाएगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*