राज्यसभा की सदस्यता से मायावती का इस्तीफा मंजूर

मायावती (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : बसपा सुप्रीमो मायावती का राज्यसभा सांसद की सदस्यता से दिया गया इस्तीफा मंजूर कर लिया गया है.
बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने राज्यसभा की सदस्यता से मंगलवार को इस्तीफा दे दिया था. 

बता दें कि मायावती को मंगलवार 18 जुलाई को बोलने से रोका गया था.
मायावती ने तब राज्यसभा में ही कहा था – “लानत है. अगर मैं अपने पिछड़े वर्ग की बात सदन में नहीं रख सकती, तो मुझे सदन में रहने का अधिकार नहीं है.” 

दरअसल, मायावती सहारनपुर में दलितों के साथ हुई हिंसा का मुद्दा उठा रहीं थीं. उन्होंने इस मामले में यूपी के भाजपा सरकार पर दलितों के साथ भेदभाव का आरोप लगाया था.
यह भी कहा कि सहारनपुर हिंसा साजिश के तहत हुई. मायावती बोल ही रहीं थी कि उप सभापति पी जे कुरियन ने उन्हें बोलने से रोक दिया.
तब मायावती ने कहा कि मुझे बोलने से रोका जा रहा है, तब वह सदन से इस्तीफा दे देंगी.
इसके बाद वह सदन छोड़कर चली गईं थीं.

यहां क्लिक कर देखें वीडियो.

 

मायावती के सदन से चले जाने के बाद भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने तंज कसते हुए कहा था कि माया इसलिए सदन का बहिष्कार कर रही हैं, क्योंकि वो अपनी हार से हताश हैं. पर इसके कुछ घंटे बाद ही मायावती ने राज्यसभा से इस्तीफे की घोषणा कर देश में बड़ा भूचाल ला दिया है. इस्तीफे के बाद राज्यसभा के सभापति को तय करना होगा कि वे इसे स्वीकारते हैं कि नहीं. अभी राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी हैं. मायावती के राज्यसभा कार्यकाल का अभी एक साल और बचा हुआ था.

यह भी पढ़ें-   मायावती का राज्यसभा से इस्तीफा, अब प्रधानमंत्री बेरोज़गार योजना का लाभ लेंगी