तेजस्वी को मंत्री मुकेश सहनी ने दिया धन्यवाद, केन्द्र सरकार से की फैसले पर विचार करने की अपील

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: जातिगत जनगणना नहीं कराने के केन्द्र सरकार के निर्णय से वीआईपी पार्टी के अध्यक्ष व बिहार सरकार में मंत्री मुकेश सहनी काफी दुखी है. मुजफ्फरपुर में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे मंत्री ने केन्द्र सरकार से एक बार फिर से विचार करने की अपील की. उन्होंने कहा कि यह मुद्दा देश के विकास से जुड़ा है. अगर हम सभी को जातीयों की वास्तविक संख्या का पता चल जाए तो उनके विकास की योजनाओं को बनाने में मदद मिलेगी.

मुकेश सहनी ने कहा कि बिहार से सभी दलों के लोग दिल्ली जाकर पीएम मोदी से मुलाकात की थी. उनको हमलोगों ने बिहार की जनता के भावनाओं के अवगत कराने का काम किया था, लेकिन केन्द्र सरकार ने इनकार कर दिया. इस मुद्दे पर हमलोग फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ बैठेंगे. उसमें विचार किया जाएगा. एकबार फिर हमलोग पीएम मोदी से समक्ष अपनी बातों को रखने का काम करेंगे.

उन्होंने कहा कि अगर केन्द्र सरकार जातिगत जनगणना नहीं कराती है तो बिहार सरकार अपने खर्चे पर यह काम कराएं. इस कार्य में हमलोग भी आर्थिक सहायता करेंगे. उन्होंने कहा कि बिहार सरकार अगर ऐसा करती है तो वीआईपी पार्टी की ओर से 5 लाख रूपये की मदद की जाएगी. एक बार लोगों की वास्तविक संख्या का पता चल जाएगा तो उनके विकास के लिए योजनाएं बनाने में आसानी होगी.

वहीं तेजस्वी द्वारा 32 पार्टी नेताओं को पत्र लिखने पर मुकेश सहनी ने धन्यवाद दिया है. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर बिहार के सभी दल एक साथ है. हम सभी मिलकर इस समस्या का समाधान निकालेंगे. वहीं किसानों के भारत बंद पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इसका समर्थन करने वाली पार्टियों को धन्यवाद. वो लोग अपनी पार्टी के सिद्धांत के अनुसार राजनीति कर रहे हैं.