नहीं रहीं केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की मां, राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री समेत बिहार के राज्यपाल व सीएम ने जताया शोक

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की मां विमला प्रसाद का 89 वर्ष की आयु में निधन हो गया. उन्होंने कल रात अंतिम सांस ली. वे कुछ दिनों से बीमार चल रही थीं. उनके अंतिम दर्शन के लिए पार्थिव शरीर शुक्रवार को दोपहर में पटना में नागेश्वर कॉलोनी स्थित आवास पर रखा गया. शनिवार को दीघा घाट पर अंतिम संस्कार किया जाएगा.

रविशंकर प्रसाद की मां के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत राज्यपाल फागू चैहान व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक जताया. बिहार के दोनों उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद व रेणु देवी के अलावा अन्य मंत्रियों व बीजेपी के नेताओं तथा कार्यकर्ताओं ने भी संवेदना प्रकट की. दिवंगत मां के अंतिम दर्शन के लिए पटना स्थित आवास पर लोगों का आ-जा रहे हैं.



जेपी आंदोलन में रही थीं सक्रिय

जनसंघ के समय से ही पार्टी विस्तार में सक्रिय सहयोग देने वाली विमला देवी जेपी आंदोलन में भी सक्रिय भूमिका निभायी थीं. प्रारंभिक काल से ही देश के बड़े नेता उनके आवास पर जुटते थे. तब वे तन्मय भाव से नेताओं की सेवा में लगी रहती थीं. दीनदयाल उपाध्याय, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, अटल बिहारी वाजपेयी, नानाजी देशमुख, लाल कृष्ण आडवाणी जैसी महान शख्सियत की भी उन्होंने बड़े ही आत्मीय भाव से आवभगत कर चुकी थीं.

सामाजिक क्षेत्र को अपूरणीय क्षति हुई – नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा है कि विमला प्रसाद एक मिलनसार सामाजिक महिला थीं. उनके निधन से सामाजिक क्षेत्र को अपूरणीय क्षति हुई है. दूसरी ओर, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह तथा राज्यसभा सांसद सुशील मोदी, नंदकिशोर यादव ने भी दुख प्रकट किया व इसे क्षति बताया.