सांसद पप्पू यादव ने बिहार सरकार और पुलिस की कार्यशैली पर उठाए सवाल

pappu-Yadav3
फाइल फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार से एक बड़ी खबर आ रही है. बिहार के मधेपुरा से सांसद और जन अधिकार पार्टी के संरक्षक राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने बिहार सरकार और पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं. सीतामढ़ी में पुलिस बर्बरता के शिकार बने पूर्वी चम्पारण के दो युवकों के घरवालों से मिलने पप्पू यादव उनके गांव पहुंचे.

पप्पू यादव के पहूंचने पर ग्रामीणों ने उन्हें पुलिस बर्बरता की कहानी सुनाई. इस दौरान पप्पू यादव राज्य सरकार पर जमकर कर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि राज्य की स्थिति कश्मीर से भी खराब हो गई है. प्रशासन और सरकार के खिलाफ मुंह खोलने वालों को घर से निकाल कर गोलियों से भून दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि सीतामढ़ी में पूर्वी चम्पारण के दो युवकों के साथ पुलिस ने बर्बरता की सभी हदें पार कर दी. उनकी हाथों में कील ठोके गए तो लाठी डंडों से पिटाई के साथ साथ बिजली के करंट भी लगाए गए.

पप्पू ने कहा कि घर में सो रहे दो युवकों को लूट और हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया और उनकी हत्या कर दी गई जबकि मृतकों में एक युवक पर कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं था, एक युवक पर कुछ मामले थे लेकिन उसको सजा इतनी बर्बरता से नहीं दी जा सकती. पप्पू यादव को मृतक तस्लीम के भाई ने पूरी जानकारी देते हुए कहा कि दोनों के पैर और अंगुलियों में कील ठोके गए थे.

पीड़ित परिजनों से मिलने के दौरान सांसद पप्पू यादव ने मृतक तस्लीम की मां को पचास हजार रुपए देकर सहायता की साथ ही घोषणा करते हुए कहा कि पूरे मामले की कानूनी लडाई में आर्थिक और मानसिक रुप से सहयोग करेगें. मालूम हो कि पूर्वी चम्पारण के दो युवकों को सीतामढी पुलिस ने चकिया थाना पुलिस के सहयोग से चकिया के रामडीहा गांव से गिरफ्तार किया था जिनकी मौत सीतामढ़ी में पुलिस हिरासत में हो गई थी.

About Md. Saheb Ali 5107 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*