कंबल संग खाना-दाना लेकर बक्‍सर जेल पहुंचे पप्‍पू यादव, फिर जो हुआ जान लीजिए

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्‍क : बक्‍सर के नंदन गांव में मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार के काफिले पर हुए हमले के बाद हुई गिरफ्तारियों को लेकर सियासत जारी है . आज 21 जनवरी को इसी क्रम में पटना से चलकर बक्‍सर के सेंट्रल जेल में मधेपुरा के सांसद पप्‍पू यादव सुबह-सुबह पहुंच गए . पप्‍पू जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्‍ट्रीय संरक्षक भी हैं . वे काफिले पर हमले के आरोप में अरेस्‍ट किए गए महिला-पुरुषों से मिलना चाहते थे . लेकिन बक्‍सर जेल प्रशासन ने इजाजत नहीं दी . जेल के बाहर ही सांसद बहुत देर तक जमे रहे .

पप्‍पू यादव का कहना है कि नंदन गांव से निर्दोष लोगों को गिरफ्तार किया गया है . जात पूछकर अरेस्टिंग हुई है . दलित और यादवों को टारगेट किया गया है . उनके मुताबिक 28 लोगों की अब तक अरेस्टिंग की गई है . इनमें 18 पुरुष और 10 महिलाएं हैं . गिरफ्तार किए गए 14 साल के बच्‍चे को भी जेल के भीतर गलत तरीके से रखा गया है . VIDEO : पटना में रौनक के घर बिफरे पप्पू यादव, कहा – बिहार में लाश देखते-देखते थक चुके हैं 

कंबल/खाना-दाना साथ लेकर आए थे पप्‍पू

नंदन गांव के बंदियों से मिलने आए पप्‍पू यादव सभी 28 लोगों के लिए कंबल लेकर आए थे . सेब-मिठाई भी साथ था . बंदियों से मुलाकात का दिन आज नहीं था . इस कारण उन्‍हें जेल प्रशासन ने किसी से मिलने नहीं दिया . बाद में, बंदियों को सौंपने के लिए साथ लाया सारा सामान पप्‍पू यादव ने जेल ऑफिशियल को दे दिया .

समर्थकों संग बक्सर जेल पहुंचते हुए सांसद पप्पू यादव

पप्‍पू ने कहा कि नंदन गांव में प्रशासन का जुल्‍म लगातार जारी है . बिना महिला पुलिसकर्मियों के लिए रेड किए जा रहे हैं . मारा-पीटा जा रहा है . वे बंदियों को कानूनी सहायता प्रदान करने को वकील मुहैया करायेंगे .

बक्सर जेल के बाहर बैठे पप्पू यादव

ददन यादव – संतोष निराला पर बोले यादव

पप्‍पू ने कहा कि वे जुल्‍म के खिलाफ लड़ रहे हैं . जुल्मियों के लंका को जला देने की जरुरत है . मीडिया ने जब डुमरांव विधायक ददन यादव पहलवान द्वारा लगाए गए आरोपों के बारे में पूछा, तो कहे कि पांच सालों तक बॉडीगार्ड रहने वाले व्‍यक्ति के बारे में कुछ नहीं कहना है .

बातचीत करते सांसद पप्पू यादव

दलितों का नेता एकमात्र मंत्री संतोष निराला के दावों पर पप्‍पू यादव ने कहा – ये संतोष निराला हैं कौन . पूरे देश में दलितों का जो हाल बनाकर रखा गया है, वह सभी देख रहे हैं . हम चुप नहीं रह सकते .

मानव श्रृंखला में शामिल बच्‍चों से मिले

पप्‍पू यादव जेल से बाहर आने के बाद मानव श्रृंखला में शामिल छोटे-छोटे बच्‍चों को देख उनके बीच चले गए . बच्‍चों से बात की . बच्‍चों ने बताया कि उन्‍हें शामिल होने को मास्‍टर साहेब ने कह रखा था . मास्‍टर साहेब बोले कि आज सरकार के आदेश पर स्‍कूल को खोला गया था .

मानव श्रृंखला में शामिल बच्‍चों से मिलते पप्पू यादव

श्रृंखला में बिना स्‍वेटर के ठंड में ठिठुरते बच्‍चों को जब पप्‍पू ने देखा तो अपनी चादर दे दी . फिर उनके साथ रहे और कई लोगों ने यह काम किया .

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*