मुंगेर में जब एक दिन के ‘डीएम’ बनाये गये जिलाधिकारी के ड्राइवर…

लाइव सिटीज डेस्क : आपने नायक फिल्म में अनिल कपूर को एक दिन का सीएम बनते देखा होगा. हालांकि वह अमरीश पुरी का खुन्नस था. लेकिन बिहार के मुंगेर में जिलाधिकारी ने अपने ड्राइवर को सम्मान देने के लिए उसे एक दिन का ‘डीएम’ बना दिया. जिसकी चर्चा मुंगेर समेत पूरे बिहार में हो रही है. लोग इसे काफी सराहनीय कदम और प्रेरणादायक बता रहे हैं.
दरअसल, डीएम के ड्राइवर संपत राम आज अपनी सेवा से रिटायर हो रहे थे. वे 32 सालों से डीएम की गाड़ी ड्राइव कर रहे थे. इसके लिए मुंगेर समाहरणालय में फेयरवेल समारोह का आयोजन किया गया था. जहां जिलाधिकारी ने 32 सालों से डीएम की गाड़ी ड्राइव कर रहे सम्पत राम को शानदार और यादगार विदाई दी. फेयरवेल समारोह के उपरांत जिलाधिकारी ने अपने ड्राइवर रह चुके सम्पत राम को सरकारी गाड़ी में पीछे बैठाया और स्वयं ड्राइवर की सीट पर बैठ कर गाड़ी चला उन्हें उनके घर तक पहुंचाया. जगन्नाथ मिश्रा ने मुंह खोला, बता दिया कि लालू प्रसाद को किसने फंसाया
जिलाधिकारी ने बताया कि सम्पत राम 32 सालों से मुंगेर डीएम के ड्राइवर रह चुके हैं. आज उनके रिटायरमेंट के समय वे अपने ड्राइवर को जिलाधिकारी की सीट पर बैठा और खुद उनका ड्राइवर बन उन्हें घर तक छोड़ने गये. ये सब वो अपने ड्राइवर के सम्मान में वे कर रहे हैं.
ऐसा सम्मान पा कर ड्राइवर संपत राम ने बताया कि आज उनकी रिटायरमेंट में मुंगेर डीएम ने जो सम्मान प्रदान किया ऐसा सम्मान उन्हें और कहीं भी नहीं मिला है. सम्पत ने कहा कि आज डीएम ने उन्हें एक दिन का जिलाधिकारी बना खुद उनका ड्राइवर बन उन्हें जो सम्मान दिया वे उसको आजीवन नहीं भूल सकते हैं.
बता दें कि सम्पत राम 1983 से ही जिलाधिकारी के ड्राइवर के रूप में नियुक्त हुए और लखीसराय और चकाई के बाद पिछले 32 सालों से मुंगेर के जिलाधिकारी के ड्राइवर के रूप में कार्यरत थे.