रग्बी गर्ल श्वेता का नालंदा पहुंचने पर भव्य स्वागत, फूल-मालाओं से लाद हुआ रोड शो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क (संतोष कुमार) : नालंदा की बेटी और रग्बी गर्ल श्वेता शाही ने एक बार फिर राज्य और देश का नाम रौशन किया है. श्वेता शाही ने एक और कीर्तिमान स्थापित कर राज्य और देश को गौरवान्वित किया है. बता दें कि एशियाई रग्बी चैंपियनशिप में भारत ने सिंगापुर को हराकर ब्रांज मेडल अपने नाम कर लिया है. भारत की इस जीत में बिहार के नालंदा की रहने वाली श्वेता शाही ने अहम भूमिका निभाई.

21-19 से भारत ने दर्ज की जीत

फिलीपींस की राजधानी मनीला में 19 से 22 जून तक चले एशियाई वुमेन रग्बी फुटबॉल टीम में नालंदा की श्वेता शाही भी शामिल थी. नालंदा की श्वेता शाही और पटना की स्वीटी ने भारत को ब्रांज मेडल दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी.

भारत और सिंगापुर के बीच कांटे की टक्कर वाले मैच में भारत ने 21-19 से जीत दर्ज की. टूर्नामेंट में चीन और फिलीपींस के बाद भारत की टीम शीर्ष पर रही. भारत के सभी मुकाबलों में 14 नंबर की जर्सी पहनकर खेलने वाली श्वेता ने इस जीत में अहम भूमिका निभाई. तीसरी बार अंतर्राष्ट्रीय मैच में भारत को सफलता दिलाने वाली श्वेता शाही बेहद खुश दिखीं. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने और बेहतर करने की बात कही.

श्वेता का घर में हुआ भव्य स्वागत

ब्रांज मेडल जीतकर अपने घर नालंदा पहुंचने पर श्वेता शाही का भव्य स्वागत किया गया. नालंदा रग्बी टीम के सदस्यों और स्थानीय लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया. लोगों ने फूल-माला पहनाकर उन्हें बधाई दी. भारत की जीत की खुशी और श्वेता शाही के योगदान की खुशी में नालंदा के मोरा तालाब से श्वेता शाही के घर तक एक रोड शो निकाला गया. उन्होंने आने वाले दिनों में और बेहतर करने की बात कही.

मुजफ्फरपुर नहीं जाने का कारण तेजस्वी यादव खुद बताएंगे, कह रहे हैं अब्दुल बारी सिद्दीकी

वहीं श्वेता के पिता सुजीत कुमार शाही ने कहा कि नालंदा की बेटी ने मनीला में जाकर सफलता का परचम लहराया है. श्वेता के पिता ने सरकार से इस खेल के लिए सहयोग करने की बात कही ताकि श्वेता की तरह अन्य बेटियां भी बेहतर खेल से अपने और अपने राज्य का नाम रौशन कर सकें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*