सत्र के दूसरे दिन नवादा की विधायक विभा देवी ने ली शपथ, शेष 53 माननीयों ने ग्रहण की विधानसभा की सदस्यता

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : 17वीं बिहार विधानसभा के पांच दिवसीय पहले सत्र के आज दूसरा दिन शेष माननीयों ने शपथ ली. दूसरे दिन नवादा से नवनिर्वाचित विधायक विभा देवी समेत 53 विधायकों ने शपथ ली. पहले दिन भाजपा और जेडीयू समेत आरजेडी और अन्य दलों के 190 विधायकों ने शपथ ली थी. जिसमें उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणू देवी समेत कई मंत्री का नाम शामिल है. वहीं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव ने भी विधानसभा की सदस्यता ग्रहण कर ली है.

नवादा विधानसभा क्षेत्र से राजद प्रत्याशी पूर्व राज्य मंत्री राजबल्लव प्रसाद की पत्नी विभा देवी ने जीत हासिल की है. पहले नवादा विधानसभा क्षेत्र से पूर्व राज्य मंत्री चुनाव लड़ते थे. पूर्व में तीन बार लगातार विधायक भी रहे. पिछले चुनाव में भी जीत हासिल कर विधायक बने थे. इस बार चुनाव में विरासत को बचाने के लिए उनकी पत्नी विभा देवी राजद के टिकट पर मैदान में उतरी थी. विभा देवी गृहणी की भूमिका से बाहर निकलकर राजनीति में पहली बार कदम रखा, और जीत हासिल किया. इनकी जीत से विधानसभा क्षेत्र की खासकर महिला मतदाताओं में पूरा उत्साह है.



विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 201 से 243 के अलावा एक से क्रमांक संख्या 200 के बीच में जो विधायक शपथ नहीं ले सके हैं. वह सभी आज शपथ लिए. इससे पहले सोमवार को सरकार के मंत्री के अलावा विधानसभा संख्या एक से क्रमांक संख्या 200 के बीच के ही विधायकों ने शपथ ली है. इसके अलावा आज विधानसभा स्पीकर पद के लिए नामांकन दाखिल किया गया. कल की तरह आज भी गहमागहमी भरा सत्र रहा.

इधर आज स्पीकर पद के लिए महागठबंधन और एनडीए की ओर से अपने-अपने उम्मीदवार उतार दिए गए. महागठबंधन की ओर से सीवान से आरजेडी के वरिष्ठ विधायक अवध बिहारी चौधरी को प्रत्याशी बनाया गया है. जबकि एनडीए की ओर से बीजेपी विधायक विजय कुमार सिन्हा उम्मीदवार बनाए गए हैं.

51 साल में पहली बार ऐसा मौका होगा जब स्पीकर पद के लिए विधानसभा में वोटिंग होगा. इसके पहले ऐसी परंपरा रही है कि सत्तापक्ष से स्पीकर और विपक्ष से डिप्टी स्पीकर होना तय माना जाता था. लेकिन इस बार महागठबंधन की ओर से अपना उम्मीदवार को उतार कर इस परंपरा को तोड़ दिया गया है.