लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव शुक्रवार की देर शाम बिहार झारखंड उड़ीसा के मुसलमानों की सबसे बड़ी एदारा इमारते शरिया पहुंचे. पप्पू यादव के इमारते शरिया पहुँचने पर इमारत के कार्यवाहक नाजिम मौलाना मोहम्मद शिबली अल कासमी ने गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया. यहां पप्पू यादव ने अपील किया की एनआरसी व सीएए कानून के खिलाफ भाजपा सरकार को घेरने के लिए जुलुस विरोध मार्च नहीं बल्कि बड़ी-बड़ी सभायें करके दलितों, अल्पसंख्यकों, गरीबों को जागरूक करने की जरूरत है

पप्पू यादव ने भाजपा सरकार को देश से उखाड़ फेंकने के लिए सत्त्याग्रह और बड़ी लड़ाई लड़ने का आह्वान किया. जाप संरक्षक पप्पू यादव ने राजद और नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोलते हुए कहा की एक लड़का केवल नितीश कुमार के खिलाफ ही बोलने में लगा है, उसके मुंह से नरेंद्र मोदी के खिलाफ कोई बात नहीं निकलती.

‘नितीश कुमार करना चाहते हैं मोदी सरकार को खुश’

वहीं, पप्पू यादव ने कहा कि नितीश कुमार एक तरफ नरेंद्र मोदी की सरकार को खुश करना चाहते हैं तो दूसरी तरफ कुछ मौलाना को भी खुश करके रखना चाहते हैं , ऐसा नहीं चलेगा. नीतीश कुमार बर और कनियां दुन्हों को खुश करना चाहते हैं. पप्पू यादव ने जोरदार तरीके से कहा की जिस देश में तीस करोड़ मुसलमान और सत्ताईस करोड़ अनुसूचित जाती, दलित की आवादी है उसे बाहरी देश के लोगों को देश की नागरिकता देकर सरकार डराने का काम कर रही है. उन्होंने साफ़ सपाट लफ्जो में कहा की मुसलानो और दलितों को कागजात देने की जरूरत ही नहीं है. चाहे सरकार जितना जोर जुल्म ढाहे, साफ़ कह दीजिये की हमारा कागजात बाढ़ में डूब गया.

‘हमारी हकमारी करने के लिए एनआरसी व सीएए ला रही है सरकार’

पप्पू यादव ने कहा की हमारे देश में जो आबादी है उसे रोजगार , शिक्षा और अन्य विकास योजनाओं के लाभ देने में विफल भाजपा की सरकार बाहरी शरर्णार्थियो को नागरिकता देकर हमारी हकमारी करने के लिए ही एनआरसी व सीएए ला रही है.  उन्होंने कहा की एनआरसी व सीएए के बहाने मुसलमान तो बहाना है, असली टारगेट अनुसूचित जाती, गरीबों और दलितों को बनाना है.

‘एनआरसी व सीएए लाकर फसाद कराने का काम कर रही है  सरकार’

पप्पू यादव ने कहा की एनआरसी व सीएए की लड़ाई सबसे पहले उनकी पार्टी जाप और उन्होंने शुरू की है. वे पुरे देश में घूम घूम कर भाजपा की सरकार के खिलाफ लोगों को एकजुट करने का काम कर रहे हैं. पप्पू ने कहा की गरीबी महंगाई , शिक्षा की बदहाली, रोजगार आर्थिक मंदी जैसे ज्वलंत मुद्दों से देश के भोली भाली जनता को भटकाने के लिए जब मंदिर मस्जिद , धारा 370 और तीन तलाक के मुद्दे काम नहीं आये तो सरकार अब देश को बांटने वाली एनआरसी व सीएए लाकर फसाद कराने का काम कर रही है.