लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: 23 फरवरी से तेजस्वी यादव बेरोजगारी हटाओ यात्रा शुरू करने जा रहे हैं. इसको लेकर एक बस तैयार किया गया है, जिसका नंबर मंगल पाल के नाम से रजिस्टर है. लेकिन मंगल पाल के नाम से रजिस्टर नंबर गरीबी रेखा से नीचे आते हैं. और जिस मोबाइल नंबर को उसमें दर्शाया गया है वह अनिरुद्ध यादव के नाम से रजिस्टर है, जो बख्तियारपुर के पूर्व विधायक हैं. इस बात को लेकर विधानसभा के मंत्री नीरज कुमार ने तेजस्वी पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

उन्होंने पूछा है कि क्या अपने पिता लालू प्रसाद यादव की तरह संपत्ति सृजन करना शुरू कर दिया है या फिर आने वाले विधान परिषद या राज्यसभा चुनाव की टिकट बिक्री का खेल 10 सर्कुलर रोड से होने लगा है. नीरज ने कहा कि जिस मंगल पाल के नाम पर बस खरीदा गया है वह बीपीएलधारी है. वह कैसे लाखों रुपए का बस को खरीद सकता हैं. इस पर तेजस्वी को जवाब देना चाहिए.

दरअसल 23 फरवरी से आरजेडी की बेरोजगारी हटाओ यात्रा शुरू हो रही है. तेजस्वी बिहार भर में अपनी यात्रा युवा क्रांति रथ के जरिए करेंगे. तेजस्वी के लिए सज-धज कर रथ तैयार है. बेरोजगारी हटाओ यात्रा के लिए इस बस को युवा क्रांति रथ का नाम दिया गया है.

वहीं अनिरुद्ध यादव जिनका मोबाइल नंबर इसमें दर्शाया गया है, उन्होंने बस की खरीदारी पर सफाई दी है. उन्होंने कहा कि मेरा सबकुछ आरजेडी को लेकर समर्पित है. बीपीएलधारी का कोई नाम नहीं है. यह बस को हमलोगों ने दिया है. पार्टी के लिए सारा संपत्ति दे देंगे. बस मेरे स्टाफ मंगल पाल के नाम पर खरीदा गया है. वह बीपीएल सूची में नहीं आते हैं. ठिकेदार हैं. उनका जीएसटी नंबर हैं वह इनकम टैक्स देते हैं.