सुशांत सिंह मामले पर बोले नीरज कुमार- कोर्ट के फैसले से जनता का भरोसा और बढ़ा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के मौत की मिस्ट्री अब तक सोल्व नहीं हुई है. अब इस मामले में एक नया मोड़ आ गए है. इस केस में महीनों से उठ रहे सीबीआई जांच की मांग आज स्वीकार कर ली गयी है. सुप्रीम कोर्ट ने कह दिया है कि सुशांत सिंह राजपूत मौत की जांच सीबीआई ही करेगी.

इसको लेकर बिहार की सियासत गरमा गयी है. बिहार के नेता और मंत्रियों ने इस फैसले का दिल से स्वागत किया है. बिहार सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री ने नीरज कुमार ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से जनमानस का न्यायिक व्यवस्था पर भरोसा प्रगाढ़ हुआ है और उम्मीद बढ़ी है.



उन्होंने कहा कि स्व. सुशांत सिंह राजपूत के परिजनों द्वारा पटना में FIR दर्ज करवाने के उपरांत जांच के लिए मुंबई गई पुलिस के साथ वहां किए गए असहयोग और पुलिस टीम के नेतृत्व के लिए गए आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटाइन किया जाना सीधे तौर पर जांच को बाधित करना था। परिजनों के अनुरोध पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सीबीआई जांच की अनुशंसा की, जिसे आज माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने भी जांच की अनुमति प्रदान कर दी.

इस मौके पर भी नीरज कुमार बिहार नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर हमला बोलने से पीछे नहीं हटे. उन्होंने कहा कि इस पूरे प्रकरण में हैरतअंगेज यह है कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव एक तरफ तो सीबीआई जांच की मांग करने का दावा करते हैं यानी सीबीआई जांच को सही मानते हैं तो फिर कैदी नंबर 3351 लालू यादव की सजा को भी सही मानते हैं। वहीं दूसरी ओर कहते हैं कि हमारे पिता कैदी नंबर 3351 को फंसा दिया गया। ये दोहरा मापदंड ?