अब पहले जैसा नहीं रह जाएगा रेलवे का रिजर्वेशन फॉर्म, यह होंगे नए बदलाव

लाइव सिटीज डेस्क : भारतीय रेलवे ने एक ओर जहां ट्रेनों की स्पीड बढ़ा दी है और कई ट्रेनों के समय सारिणी में बदलाव किया है. वहीं दूसरी ओर अब रेलवे ने रिजर्वेशन फॉर्म में भी जल्द बदलाव करने की घोषणा कर दी है. अब इस नए फॉर्म में कई तरह की जानकारी देने के लिए कॉलम बनाया जाएगा. यह बदला हुआ फॉर्म आईआरसीटीसी एवं रेलवे टिकट आरक्षण काउंटर दोनों जगह लागू हो जाएगा.

मिल रही जानकारी के मुताबिक अब से रेलयात्रियों को राष्ट्रीयता बताने पर ही ट्रेनों में आरक्षण मिलेगा. इस पर जल्द काम भी शुरू हो जाएगा. रेलवे बोर्ड के निदेशक विक्रम सिंह ने नौ अगस्त को आदेश जारी किया है, जो दक्षिण-पूर्व जोन गार्डेनरीच में आया है. इससे टाटानगर स्टेशन व चक्रधरपुर मंडल में जल्द ही यात्रियों के लिए नया आरक्षण फॉर्म लागू होगा. आरक्षण फॉर्म में ठहरने के लिए डोरमेट्री व रिटायरिंग रूम बुकिंग की सुविधा भी शुरू हो सकती है, क्योंकि पीएनआर के आधार पर बुकिंग में सहूलियत होगी.

सीनियर सिटीजन किराए में छूट लेना चाहते हैं या नहीं. नए आरक्षण फॉर्म में रेलवे ने इसके लिए भी एक कॉलम बनाया है. इसमें सीनियर सिटीजन छूट का लाभ कितना प्रतिशत (पचास या सौ) लेना चाहते हैं, यह बताना जरूरी है.

नए आरक्षण फॉर्म में रेलवे ने किन्नरों के (थर्ड जेंडर) लिए एक कॉलम बनाया है, जबकि पहले के फॉर्म में सिर्फ महिला एवं पुरुषों का ही कॉलम है. इससे थर्ड जेंडर को आरक्षण फॉर्म भरने व टिकट बनवाने में सहूलियत होगी.

रेलवे यात्री सुविधा में सुधार एवं बढ़ोतरी के साथ आरक्षण फॉर्म में भी बदलाव किया गया है. इससे टिकट के साथ बेडरोल एवं खाना (शाकाहारी व मांसाहारी) की बुकिंग शुरू हुई है. पहले गर्भवती महिला एवं सीनियर सिटीजन को कंफर्म सीट देने के लिए बदलाव हुआ था. लाभ कितना प्रतिशत (पचास या सौ) लेना चाहते हैं, यह बताना जरूरी है.