हमने सभी के घरों में बिजली पहुंचा दिया, अब खेतों में किसानों के लिए पानी पहुंचाना है- नीतीश कुमार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: सीएम नीतीश कुमार आज बिहार के चार विधान सभा क्षेत्रों में चुनावी सभा कर रहे हैं. नीतीश कुमार की दूसरी जनसभा सूर्यगढ़ा विधानसभा (लखीसराय) में है. इस विधानसभा क्षेत्र से जेडीयू के उम्मीदवार- रामानंद मंडल उम्मीदवार बनाये गए हैं. इस मौके पर कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी, ललन सिंह समेत कई अन्य नेता मौजूद रहे.

नीतीश कुमार ने कहा कि यहां की जनता ने मुझे सेवा करने का मौका दिया है. मेरी दिलचस्पी बिहार की भलाई में है. न्याय के साथ विकास के रस्ते पर चलेंगे. कानून का राज कायम किया, जंगल राज खत्म हुआ. विकास का काम हुआ. परिणाम है आज बिहार आगे बढ़ा है. हमने सबकी सेवा की है.



15 साल पति-पत्नी ने राज किया, पति अंदर गए तो पत्नी आ गईं, लेकिन क्या विकास किया? महिलाओं के लिए कुछ किया? शिक्षा में कुछ किया? स्वास्थ्य में कुछ किया? जब हमें मौका मिला तो हमने हर क्षेत्र व हर वर्ग के लिए काम किया.

नीतीश कुमार ने कहा कि देश में शायद ही किसी राज्य होगा जहां पर इतनी बड़ी संख्या में महिला पुलिसकर्मी होंगे. आज आप देखिये बिहार में महिला पुलिसकर्मियों की कितनी बड़ी संख्या है. हमने महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की हर मुमकिन कोशिश की है. आगे अगर मौका मिलेगा तो नौजवानों को नई तकनीक का प्रशिक्षण देंगे. नीतीश कुमार ने कहा कि इन पंद्रह सालों में हमने महिलाओं को सशक्त बनाया है।हमने लड़कियों की शिक्षा पर ध्यान दिया. महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण देने का काम किया है. पोशाक योजना के तहत लड़कियों को पोशाक देने का काम किया है. देश में पहला राज्य बिहार बना जब लड़कियों को स्कूल जाने के लिए साइकिल योजना लागू की. अब गांव- गांव में लड़कियां साइकिल चलती हैं. लड़कियों के शिक्षित होने के कारण समाज का बहुत विकास हुआ है. तब हमलोगों के बारे में तरह-तरह की चर्चा शुरू की गई लेकिन हमने कहा कि किसी लड़की को कोई परेशान नहीं करेगा. अगली बार अगर हम सरकार में आये तो किसी भी लड़की के 12 वीं पास करने पर 25 हजार और स्नातक पास करने पर पचास हजार रू देंगे. अगली बार हमारा लक्ष्य है कि हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचायेंगे.

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर चकाई में सभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि मैंने बिहार में शराबबंदी लागू कर दिया है. इससे महिलाओं को बहुत खुशी है, लेकिन मेरे खिलाफ बहुत लोग बोलते रहे हैं. अगर मेरे खिलाफ बोलने से किसी को प्रचार मिलता हैं तो बोलिए. मुझे इसका कोई असर नहीं पड़ता है.

पहले पढ़ाई पर कोई ध्यान नहीं था. बेटियों को लोग 5वीं के बाद स्कूल नहीं भेज पाते थे, हमने पोशाक योजना की शुरुआत की. 8वीं तक उनकी शिक्षा सुनिश्चित की और उसके बाद साईकल योजना लाये.

समाज सुधार और विकास के लिए काम किया है. सात निश्चय के तहत स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड देने का काम किया. बाहर रोजगार के लिए कोई अगर जाये तो उसे हजार रुपया देने महीना दो साल तक देने का काम किया है. कुशल युवा कार्यक्रम के तहत कंप्यूटर पर काम करना सिखाया. व्यवहार कौशल, बोलने का तरीका सिखाने का काम किया. पहले पुलिस में ज्यादा महिलाएं नहीं दिखती थी, लेकिन अब जितनी महिलाएं पुलिस में दिखती हैं शायद ही किसी राज्य में दिखती होंगी.

हर घर तक बिजली का कनेक्शन देने का काम किया है. साल 2018 के अक्टूबर में हर घर में बिजली है. यहां तक की ग्रामीण क्षेत्रों में भी बिजली का कनेक्शन दिया गया है. सिर्फ घर में बिजली नहीं हर इलाके में बिजली का स्रोत बढ़ेगा. इसके साथ ही हर घर नल योजना के तहत सबके घरों में पानी का पूरा सप्लाई होने लगा है. गांव में भी पक्की गली और नाली का निर्माण करीब करीब हो चुका है. हर घर में शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है. खुले में शौच से मुक्ति मिल जाएगी. आगे भी मौका दीजियेगा, तो इसको और आगे बढ़ाएंगे.

गांव में हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचा देंगे. कहीं सूखा नहीं होगा. जल जीवन हरियाणी के तहत पर्यावरण को संरक्षित किया. अगर आगे मौका मिला तो किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं होगी.

बहुत लोगों को हमसे शिकायत है, महिलाओं के कहने पर हमने शराबबंदी कर दी, उससे कुछ लोगों को बहुत तकलीफ हुआ है. लोगों को नाराजगी है इससे. इस दौरान नीतीश कुमार ने विपक्ष पर निशाना साधना नहीं छोड़ा. उन्होंने कहा कि जो काम करते हैं उसका प्रचार नहीं करते हैं. लोगों को खुद पता चल जाता है.