सारण के मांझी में नीतीश कुमार ने की चुनावी सभा, एनडीए से जेडीयू प्रत्याशी माधवी सिंह के लिए मांगा वोट

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : सारण जिले के मांझी विधानसभा क्षेत्र में नीतीश कुमार ने चुनावी सभा की. इस दौरान उन्होंने लोगों से एनडीए से जेडीयू प्रत्याशी श्रीमती माधवी सिंह को जीताने की अपील की. केन्द्र और राज्य सरकार के काम को गिनाते हुए विरोधियों पर जमकर निशाना साधा.

कोरोना की रोकथाम के लिए केन्द्र और राज्य सरकार काम कर रही है. कोरोना काल में चुनाव होने के कारण चुनाव प्रचार के लिए काफी कम समय मिला है. फिर भी सभी तक पहंच बनाने की कोशिश की जा रही है.



कुछ लोगों को अपने परिवार के बारे में चिंता रहती है. पति-पत्नी बेटा बेटी ही पूरा बिहार है.लेकिन हम लोगों के लिए पूरा बिहार एक परिवार है. समाज के हर वर्ग, हर तबके के विकास के लिए काम किया गया है.

जो किनारे थे चाहे वो किसी भी समाज, धर्म जाति के हो उनको विकास के मुख्य धारा में जोड़ने का काम किया गया. महिला, अल्पसंख्यक, दलित, महादलित, पिछड़ा, अति-पिछड़ा समाज के विकास का काम किया गया .

जिन लोगों को 15 साल तक काम करने का मौका मिला उन्होंने किसी भी वर्ग के विकास के लिए काम नहीं किया. लेकिन हम लोगों ने सभी वर्ग, हर तबके के विकास के लिए काम किया. पहले लोग समाज में टकराव पैदा करने की कोशिश करते थे, शाम होते ही लोग अपने घरों में दूबक जाते थे.

सबसे पहले हम लोगों ने अपराध पर अंकुश लगाने का काम किया. आज बिहार 23वें नबंर पर चला गया है. आर्थिक रूप से बिहार सक्षम होता जा रहा है. प्रति व्यक्ति आय 10.5 फीसदी की दर से बढ़ोतरी हो रही है. आज 2 लाख 11 हजार करोड़ रूपए का बजट हो गया है. बिहार का विकास 12.8 फीसदी की दर से बढ़ोतरी हो रही है.

लड़कियों की शिक्षा पर जोर दिया गया. पोशाक और साइकिल योजना चलाकर उनकी संख्या बढ़ायी गयी. परिणाम यह हुआ कि इस बार मैट्रिक परीक्षा में लड़की की संख्या लड़कों से ज्यादा हो गया है. गरीब के बच्चे जो स्कूल से बाहर रहते थे उनको स्कूल भेजने की योजना बनायी गयी. तालिमी मरकज, टोला सेवक की बहाली कर बच्चों को स्कूल तक पहुंचाया गया.

स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम किया गया. पहले पीएचसी में औसतन एक दिन एक आदमी इलाज के लिए जाता था. आज एक दिन में हजार आदमी इलाज के लिए जाता है. हर जिले में पढ़ने के लिए संस्थान की स्थापना की गयी.

जल जीवन हरियाली अभियान को सफल बनाने का काम किया जा रहा है. लेकिन यहां कोई नहीं बोलता है कि क्या-क्या काम हो रहा है. लेकिन बिहार में काम की चर्चा बाहर में हो रही है. यूनाइटेड नेशन तक बिहार में किए गए काम की चर्चा होती है. कई देश के लोग बिहार की योजनाओं के बारे में जानने के लिए जागरूक है.

आगे मौका मिलता है तो विकास के लिए और काम किया जाएगा. हर खेत तक सिंचाई के लिए पानी पहुंचाया जाएगा. गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगायी जाएगी. 8-10 पंचायत पर एक पशु अस्पताल खोला जाएगा. जहां दवा मुफ्त मिलेगी. नई तकनीक से गांव के लोग और पशुओं का इलाज की सुविधा दी जाएगी. हर जिले में मेगा स्कील सेंटर खोला जाएगा. हर गांव की सड़कों को मुख्य सड़क से जोड़ा जाएगा.