‘नीतीश कुमार जी शराबबंदी कानून में संशोधन करें’ बीजेपी के इस सांसद ने कर दी मांग

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में इस बार बड़े भाई की भूमिका में बीजेपी है. जिसको लेकर कई तरह के कयास लगाए जाने लगे हैं. सियासी गलियारे में ऐसी बातों की चर्चा जोरों पर है कि नीतीश कुमार मुख्यमंत्री होंगे, लेकिन सरकार में बीजेपी की चलेगी. कुछ ऐसा ही बीजेपी के इस सांसद के ट्वीट से लगने भी लगा है. सांसद ने ट्वीट कर नीतीश कुमार से शराबबंदी कानून में संशोधन की बात कही है. जिसको जेडीयू ने सिरे से नकार दिया है.

गोड्डा से बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने एक ट्वीट करते हुए कहा है कि,’बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह है कि शराब बंदी में कुछ संशोधन करें,क्योंकि जिनको पीना या पिलाना है वे नेपाल, बंगाल, झारखंड, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ का रास्ता अपनाते हैं, इससे राजस्व की हानि, होटल उद्योग प्रभावित तथा पुलिस, एक्साइज भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं.’



बीजेपी सांसद का यह सलाह जेडीयू का पसंद नहीं आयी है. पार्टी प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने सांसद निशिकांत दुबे को इस तरह के बयानों से बचने की सलाह देते हुए कहा कि शराबबंदी का फैसला समाज के हित में है. इस फैसले से लाखों गरीब के चेहरे में फिर से मुस्कान आयी है. इसकी वजह से सड़क दुर्घटनाओं में कमी आयी है. यहां तक की महिला उत्पीड़न से संबंधित मामले में भी कमी आयी है. ऐसे में इस फैसले का हम सभी को स्वागत करना चाहिए.

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान आरजेडी के नेता कहते रहे कि जब हमारी सरकार आएगी तो शराबबंदी कानून में संशोधन किया जाएगा. लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने तो शराबबंदी के मुद्दे पर नीतीश कुमार को जेल भिजवाने की धमकी तक दे डाली थी. आरजेडीऔर लोजपा का कहना है कि शराबबंदी के बावजूद बिहार में शराब की बिक्री चोरी छिपे खूब होती है. शराबबंदी से भ्रष्टाचर चरम पर है. कांग्रेस ने भी अपने घोषणा पत्र में शराबबंदी कानून में संशोधन करने की बात कही थी. कांग्रेस ने कानून को लागू करने के तरीके पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया था इससे बिहार में गरीबों का उत्‍पीड़न बढ़ा है.