नीतीश कुमार, सुशील मोदी बाढ़ग्रस्त इलाकों में बाढ़ पीड़ितों के बीच रहकर देखें, मैं उन्हें छह हजार प्रतिदिन दूंगा.

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बेतिया में बीजेपी के मंडल अध्यक्ष कन्हैय़ा गुप्ता की कोरोना से मौत से पप्पू यादव काफी दुखी हैं. पप्पू यादव स्वर्गीय कन्हैया गुप्ता के बेतिया स्थित घर जाकर परिजनों से मुलाकात की, उन्हें ढांढ़स बंधाया. पप्पू यादव के देखते हुए परिजन फूट फूटकर रोने लगे.

परिजनों की चीख पुकार सुनकर पप्पू यादव भी रो पड़े. दुख की इस घड़ी में उन्होंने परिवार वालों को आर्थिक मदद करते हुए कहा कि कन्हैया गुप्ता की मौत सरकार के मुंह पर करारा तमाचा हैं. बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था को सरकार और उनके मुलाजिम दीमक की तरह चाट गए है. इसका खामियाजा प्रदेश की जनता भोग रही है.



पप्पू यादव ने ट्वीट कर पूछा कि कन्हैया गुप्ता कौन थे?  BJP प्रदेश अध्यक्ष स्थानीय सांसद है फिर भी करोना पीड़ित कन्हैया जी को वेंटिलेटर ऑक्सीजन के लिए 50,000 रु. घूस मांगा जा रहा था? वह न दे सके तो मार दिए गए। कहां हैं बीजेपी वाले जरा इस ओर भी ध्यान दिजिए.

परिजनों के रोते हुए वीडियो पोस्ट करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि ये BJP बेतिया के मंडल अध्यक्ष कन्हैया गुप्ता के परिजन हैं. कन्हैया जी करोना पीड़ित थे, उन्हें ऑक्सीजन-वेंटिलेटर देने के लिए बेतिया मेडिकल कॉलेज का उपाधीक्षक श्रीकांत दुबे 50,000 रु घूस मांगा.गुप्ता जी की को मार दिया!  यही के हैं BJP प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल!.

बिहार सरकार द्वारा प्रत्येक बाढ़ पीड़ित परिवार को 6 हजार रूपया देने की घोषणा पर पप्पू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार, सुशील मोदी बाढ़ग्रस्त इलाकों में बाढ़पीड़ितों के बीच रहकर देखें, मैं उन्हें छह हजार प्रतिदिन दूंगा. जिसका बाढ़ में सब तबाह हो गया है, उसे छह हजार रुपया देकर एहसान जता रहे हैं.