‘ज्यादा दिन सत्ता में नहीं रह सकेंगे सीएम नीतीश, बेमेल है JDU-BJP गठबंधन’

 लाइव सिटीज डेस्क : बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज पटना आए हुए हैं. अमित शाह बिहार के सीएम नीतीश कुमार से नाश्ते पर मिले. बिहार में मिशन 2019 के लिए रणनीति बनाने को लेकर अमित शाह यहां पहुंचे. यहां उन्होंने कहा कि बिहार में जदयू और बीजेपी का गठबंधन बहुत मजबूत है. हमें अपने सहयोगियों को लेकर चलना आता है. लेकिन इस मुलाकात के बाद राजनीतिक रिएक्शन भी आने लगे. अपनी नई पार्टी बना चुके शरद यादव ने इस गठबंधन पर हमला बोला. साथ ही सीएम नीतीश पर भी बड़ा बयान दिया.

शरद यादव ने कहा कि जदयू और बीजेपी का गठबंधन बेमेल है. यह ज्यादा दिन तक चल ही नहीं सकता. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने महागठबंधन से अलग होकर जनादेश का अपमान किया है. वे एनडीए में गए तो हैं लेकिन इस गठबंधन में तालमेल नहीं है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ज्यादा दिन सत्ता में नहीं रह पाएँगे.

Tejashwi yadav, nitish kumar, motihari, rti activists murder case, तेजस्वी यादव, नीतीस कुमार, मोतिहारी मर्डर, आरटीआई एक्टिविस्ट मर्डर, बिहार न्यूज, बिहार हिंदी न्यूज

आज दिल्ली हाई कोर्ट में शरद यादव की सदस्यता को लेकर सुनवाई हुई. इस दौरान कोर्ट ने केस डिस्पोजल की तारीख तय कर दी है. इस मामले पर अब 11 सितंबर को कपिल सिब्बल शरद यादव का पक्ष रखेंगे. वहीं आज 18 सितंबर को जदयू भी अपना पक्ष रखेगा. वहीं 25 सितंबर को अंतिम सुनवाई होगी.

बोले शिवानंद : बड़ा घाघ हैं अमित शाह, चाय पानी के नाम पर नीतीश से लगवाई हाजिरी

आपको बता दें कि सीएम नीतीश कुमार के महागठबंधन से अलग होने के फैसले के बाद शरद यादव जदयू से बागी हो गए थे. वे खुल कर नीतीश कुमार पर हमला बोलने लगे. बाद में उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया. फिर जदयू के चुनाव चिन्ह पर दावेदारी को लेकर मामला कोर्ट तक पहुंच गया. जहां से नीतीश कुमार के जदयू के पक्ष में फैसला आया. फिर शरद यादव ने अपनी अलग पार्टी बना ली.

देखिए वीडियो : अमित शाह पटना में नीतीश कुमार के साथ नाश्ता-खाना कर रहे हैं, उधर सन ऑफ मल्लाह #मुकेशसहनी ने कह दिया है- #रामविलास से कम सीटें नहीं, #हार्दिकपटेल जैसा आंदोलन और 7 अक्टूबर को 10 लाख निषाद #पटना की सड़कों पर होंगे….

About Ranjeet Jha 2530 Articles
I am Ranjeet Jha (पत्रकार)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*