नीतीश ने बुलाया 23 नवंबर से विधानमंडल का शीतकालीन सत्र, 27 को समापन

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालते ही आज से ही एक्शन में आ गए. उन्होंने विधानमंडल का शीतकालीन सत्र बुलाया है. जानकारी के अनुसार, शपथग्रहण समारोह के बाद अपने पहले आदेश में 23 नवंबर से विधानमंडल का शीतकालीन सत्र बुलाया है. यह सत्र काफी संक्षिप्त होगा.

यह सत्र 27 नवंबर तक चलेगा. उधर, गठित नए कैबिनेट में सभी समुदायों को साधने की कोशिश की गई है. आंकड़े बताते हैं कि नीतीश कुमार समेत 15 विधायकों में सवर्ण समुदाय से 5, पिछड़ा वर्ग से 7 और दलित समुदाय से 3 नेताओं को मंत्री बनाया गया. इसमें सबसे उम्रदराज मंत्रियों में बिजेंद्र यादव हैं, तो सबसे युवा मंत्री मुकेश सहनी हैं.



बिजेंद्र यादव सुपौल से 8 बार से विधायक बन रहे हैं और वे 74 साल के हैं. पिछली बार वे ऊर्जा मंत्री थे. इसी तरह, मुकेश सहनी 41 साल के हैं और इस कैबिनेट में सबसे युवा हैं. वे फिलहाल किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं.

जानकारी के अनुसार, सबसे अमीर मंत्रियों की लिस्ट में बीजेपी के रामसूरत राय हैं. उनकी संपत्ति 26.88 करोड़ रुपए है. वहीं, सबसे कम संपत्ति वाले मंत्री रामप्रीत पासवान हैं. उनके पास 1.05 करोड़ रुपए की संपत्ति है.

बता दें कि सातवीं बार नीतीश कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. 37वें सीएम के रूप में उन्होंने आज शपथ ली. राजभवन के राजेन्द्र मंडपम में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में उन्हें राज्यपाल फागू चौहान ने पद एंव गोपनियता का शपथ दिलायी. जिसका गवाह देश के गृह मंत्री अमित साह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, देवेन्द्र फडणवीस, वशिष्ठ नारायण सिंह, सुशील कुमार मोदी समेत एनडीए के घटक दलों के कई वरिष्ठ नेता बने.

नीतीश कुमार के साथ तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी ने दूसरे और तीसरे नंबर पर शपथ लिया. दोनों बिहार के डिप्टी सीएम बनाए गए हैं. इसके बाद क्रमश: विजय कुमार चौधरी, बिजेन्द्र यादव, अशोक चौधरी, मेवालाल चौधरी, शीला मंडल, संतोष के सुमन, मुकेश सहनी, मंगल पांडेय, अमरेन्द्र प्रताप सिंह, रामप्रित पासवान, जीवेश मिश्रा, रामसूरत राय ने शपथ ली.