बाबा रामदेव के खिलाफ अरेस्ट वारंट, जल्द गिरफ्तार करने का आदेश

लाइव सिटीज डेस्क : बाबा रामदेव इन दिनों अपने पतंजलि के बढ़ते बाजार से लगातार से चर्चा में रह रहे हैं उससे कहीं ज्यादा विवादों में भी घिरते जा रहे हैं. अब उनके खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी हुआ है. यह वारंट हरियाणा की एक अदालत ने जारी किया है. 

योगगुरु बाबा रामदेव के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के मामले में गैरजमानती वारंट जारी किया गया है. अदालत ने रोहतक के एसपी को निर्देश दिया है कि स्‍वामी रामदेव को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जाए. कोर्ट ने कहा कि वे बार –बार कोर्ट के आदेश का उल्लंघन कर रहे हैं. अदालत में पेश होने के आदेश के बाद भी वो उपस्थित नहीं हो रहे हैं.  इस मामले में बुधवार को रोहतक कोर्ट में सुनवाई हुई थी. जब आज भी बाबा रामदेव कोर्ट में पेश नहीं हुए तो कोर्ट ने इस पर नाराजगी जताई. अदालत ने एसपी को आदेश दिया कि वो योग गुरु को गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश करें. 

बता दें कि पूर्व मंत्री सुभाष बत्रा ने स्‍वामी रामदेव के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए कोर्ट में अपील की थी. बाबा रामदेव पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगाया गया है. कोर्ट ने बाबा रामदेव के खिलाफ कई बार वारंट जारी किया, मगर वो पेश नहीं हुए. पिछली तारीख को भी कोर्ट ने पेश होने का वारंट जारी किया था.

बता दें  कि जाट आरक्षण आंदोलन में हिंसा के बाद रोहतक में सद्भावना सम्मेलन हुआ था. इसमें भाग लेने स्‍वामी रामदेव भी पहुंचे थे. उनपर आरोप है कि उन्होंने सम्मेलन के दौरान भड़काऊ भाषण दिया था. बत्रा ने आरोप लगाया कि सम्‍मेलन में अपने भाषण में स्‍वामी रामदेव ने कहा था कि अगर संविधान से उनके हाथ बंधे नहीं होते तो ‘भारत माता की जय’ का नारा नहीं लगाने वाले लाखों लोगों का वह सिर कलम कर देते.

यह भी पढ़ें-  पतंजलि के उत्पादों पर 12 फीसदी GST, बाबा रामदेव नाराज