दलित मुद्दे पर अब NDA में विवाद, भड़के जदयू ने दिया केंद्रीय मंत्री को करारा जवाब

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार की सियासत एक बार फिर से गरम हो गई है. इस बार विवाद NDA में ही हुआ है. भाजपा की सहयोगी पार्टी ने अपने बयान से हालचल मचा दी है. दलित से जुड़ा यह बयान किसी और ने नहीं बल्कि केंद्रीय मंत्री और रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने दिया  है.  उनके इस बयान पर जदयू की ओर से पलटवार हुआ है. तो वहीं उपेंद्र कुशवाहा को राजद का साथ मिला है.

upendra-kushwaha
केन्द्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा (फाइल फोटो )

दरअसल, उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार में दलितों की स्थिति नारकीय है. उन्होंने कहा कि दलितों की स्थिति में अब तक कोई सुधार नहीं आया है. इनके इस बयान के बाद सियासत शुरू हो गई. बिहार में सत्ताधारी दल जदयू के प्रवक्ता और एमएलसी नीरज कुमार ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि दलित की स्थिति बहुत सुधरी है. खुद उपेंद्र कुशवाहा केंद्र सरकार में मंत्री हैं. उन्हें इस मुद्दे को वहां उठाना चाहिए.



niraj-kumar
नीरज कुमार (फाइल फोटो)

इधर, उपेंद्र कुशवाहा के समर्थन में राजद उतर गया है. राष्ट्रीय जनता दल के विधायक भाई वीरेंद्र ने उपेंद्र कुशवाहा का साथ दिया है. उन्होंने कहा कि यह सच है कि दलितों की स्थिति आज भी बद्तर है. दलित मुद्दे पर सभी पार्टियों के कूदने से एक बार फिर सियासी हलचल और भी तेज हो सकती है.

बता दें कि इससे पहले जदयू के भीतर से ही दलितों के हक़ में पार्टी विरोधी आवाज उठी थी.  जदयू विधायक व पूर्व मंत्री श्याम रजक और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने भी कहा था कि देश में दलितों की स्थिति बहुत खराब है. कोई सुधार नहीं है. बिहार के सीएम नीतीश कुमार से भी बड़ी उम्मीदें हैं. लेकिन अब तक नतीजा कुछ नहीं हुआ है.