LPG ग्राहक भी हुए डिजिटल, गैस कार्ड से छुट्टी अब मिलेगा स्मार्ट कार्ड

लाइव सिटीज डेस्क : अब गैस उपभोक्ताओं को भी डिजिटल बनाया जा रहा है. पहल हिंदुस्तान पेट्रोलियम (HP) ने किया है. डिजिटल बनाने के मतलब यह है कि अब गैस कार्ड की जगह स्मार्ट कार्ड दिए जा रहे हैं. ग्राहकों के पास पुराना गैस कार्ड तो रहेगा ही साथ ही उन्हें एक नया स्मार्ट कार्ड भी उपलब्ध करवा दिया गया है. यह सुविधा चालू कर दी गई है. जल्द ही यह सुविधा सभी गैस कंपनियां देने जा रही हैं.

इस सुविधा का लाभ यह होगा कि जैसे ही आप ऑनलाइन माध्यम से या आईवीआरएस (IVRS) MS अपने गैस सिलेंडर की बुकिंग करवाएंगे तो आपके रजिस्डर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा. जब डिलीवरी ब्वॉय आपके दरवाजे पर डिलीवरी करने के लिए आएगा तो आपको वह ओटीपी उसे बताना होगा. वो अपनी मशीन पर उसे एंटर करेगा. ओटीपी एंटर करते ही मशीन पर ही आपकी डिलीवरी की पुष्टि हो जाएगी.



गैस सिलिंडर

एचपीसीएल के सीनियर एरिया सेल्स मैनेजर (दिल्ली) प्रदीप खयालिया ने बताया कि यह एक स्मार्ट कार्ड है और हमने पुराने गैस कार्ड को खत्म नहीं किया है उसे धीरे-धीरे हटाया जाएगा. इसका मकसद डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देना है. साथ ही यह डिलीवरी के सही व्यक्ति तक पहुंचने को भी सुनिश्चित करेगी.  अगर आप खुद से लाते हैं गैस सिलेंडर तो आपको उल्टे एजेंसी वाले देंगे पैसे, जान लें कैसे मिलेंगे

इतना ही नहीं अगर आप चाहें तो आप अपने सिलेंडर के लिए कैश के बजाए कार्ड स्वैपिंग के जरिए भी भुगतान कर सकते हैं. दरअसल जो डिलीवीरी ब्वॉय आपके पास आएगा उसके पास एक मशीन होगी. इस मशीन में आप अपना डेबिट या फिर क्रेडिट कार्ड स्वाइप कराकर भी भुगतान कर पाएंगे.