फ्लाइट के लेट होते ही पैसेंजर्स को दिए जाएंगे स्नैक्स और लंच पैकेट, DM ने दिया आदेश

पटना : फ्लाइट के लेट होते ही पैसेंजर्स को स्नैक्स और लंच पैकेट दिए जाएंगे. बच्चों को चॉकलेट दी जाएगी. ये अरेंजमेंट्स पटना एयरपोर्ट पर किए जाएंगे. एयरपोर्ट के बाहरी कैंपस में ही एक नया टेंट लगाया जाएगा. जिसमें 400 पैसेंजर्स के बैठने की व्यवस्था होगी. टेंट के अंदर पैसेंजर्स के इंटरटेनमेंट के लिए टीवी लगाया जाएगा. मोबाइल चार्ज करने के लिए चार्जिंग प्वाइंट होंगे. पीने के पानी का व्यवस्था होगी. इन सारे अरेंजमेंट्स के लिए पटना के डीएम संजय कुमार अग्रवाल की ओर से खास निर्देश दिए गए हैं.

बैठक करते पटना डीएम संजय अग्रवाल

दरअसल, खराब मौसम की वजह से पटना एयरपोर्ट पर न तो सही से फ्लाइट लैंड कर पा रही है और न ही उड़ान भर पा रही है. ऐसे में पटना से दिल्ली, बेंगलुरू, हैदराबाद और कोलकाता सहित दूसरे शहर जाने वाले पैसेंजर्स को काफी परेशानी हो रही है. पैसेंजर्स की संख्या अधिक होने की वजह से एयरपोर्ट का वेटिंग लाउंज और बाहर में बनाया गया टेंट भी कम पड़ गया. पैसेंजर्स को उनके फ्लाइट की सही जानकारी भी नहीं दी जा रही थी. लगातार उन्हें परेशानी हो रही थी. बता दें कि एयरपोर्ट पर हो रही समस्याओं की जानकारी सबसे पहले लाइव सिटीज ने ही दी थी. इस खबर के असर के बाद ही रविवार को डीएम संजय कुमार अग्रवाल पटना एयरपोर्ट पहुंचे.



एयरपोर्ट अधिकारियों को निर्देश देते डीएम संजय अग्रवाल

एयरपोर्ट अथॉरिटी के डायरेक्टर, सभी एयरलाइन्स कंपनियों के अधिकारी और मौसम विभाग के अधिकारियों के साथ एक मीटिंग की. डीएम ने मौसम विभाग के अधिकारियों को 4 दिन का पुर्वानुमान सभी एयरलाईन्स के अधिकारियों को देने का आदेश दिया है. ताकि पूर्वानुमान के आधार पर ही फ्लाइट के लेट होने और उसे कैंसिल करने की जानकारी समय पैसेंजर्स को दी जा सके. डीएम ने एयरपोर्ट अथॉरिटी को मेन बिल्डिंग के बाहर एक मे आई हेल्प यू काउंटर बनाने को कहा है. ताकि पब्लिक एड्रेस सिस्टम के जरिए पैसेंजर्स को सारी जानकारी दी जा सके.
रात में फ्लाइट कैंसिल होने पर पैसेंजर्स को छोड़ने के लिए गाड़ियों की व्यवस्था करने का भी निर्देश दिया गया है. इसके अलावे रात में एयरपोर्ट के बाहर और आसपास के ​इलाकों में पुलिस की पेट्रोलिंग और सिक्योरिटी बढ़ाने को कहा गया है. पैसेंजर्स की भीड़ को देखते हुए डीएम ने मीटिंग में मौजूद सिविल सर्जन को एक मेडिकल कैंप और एंबुलेंस की व्यवस्था करने का आदेश दिया.