अब नहीं डूबेंगे पटना और आसपास के इलाके, डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने की उच्चस्तरीय बैठक

सुशील मोदी (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पटना शहर और इसके आस पास के शहरी क्षेत्रों को जलजमाव से मुक्ति को लेकर डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की . सचिवालय सभागार में आयोजित बैठक में संबंधित विभाग के अधिकारी मौजूद रहे. बैठक में 167 करोड़ की राशि  से पटना को जलजमाव से निबटने के लिए उच्चक्षमता के वर्टिकल, सबमर्सिबल पम्प की खरीद का आदेश दिया गया.

विभाग की तैयारियों की समीक्षा करते हुए डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने अधिकारियों को 31 जुलाई के पहले सभी आपूर्ति और अधिष्ठापन को सुनिश्चित करने का आदेश दिया. साथ ही 3 साल के लिए 39 ड्रेनेज पम्पिंग स्टेशनों की रखरखाव, संचालन और उसका मरम्मति की जिम्मेवारी विभिन्न एजेंसियों को देने की बाते कही.

सुशील मोदी ने जल जमाव से निबटने के लिए 10 करोड़ की लागत से किए जा रहे 27 अस्थायी नए पम्पिंग स्टेशनों का निर्माण कार्य हर हाल में 15 जून तक पूरा करने और सभी शेष बचे बड़े और खुले नालों, मेनहॉल, कैचपीट की उड़ाई 31 मई तक करने का निर्देश दिया है. वहीं 30 जून तक  पम्पिंग स्टेशनों का संरचनात्मक निर्माण व ऊंचीकरण का कार्य पूरा करन का निर्देश दिया.

बता दे कि बैठक में पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा, उद्योग मंत्री श्याम रजक के साथ कई विधायक, पटना मेयर समेत कई अधिकारी और पदाधिकारी मौजूद रहे.