‘सुमो- शत्रु’ वार में कूदे तेजस्वी : कहा- जो आपको ‘शत्रु’ कहता है वो खुद ‘सुशील’ कैसे हुआ !

लाइव सिटीज डेस्क : लालू प्रसाद की कथित बेनामी संपत्ति को लेकर छिड़े विवाद में अब नया मोड़ आ चुका है.  भाजपा नेता सुशील मोदी और भाजपा से ही सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के बीच तनातनी का मामला अब तूल पकड़ चुका है. इन दोनों की लड़ाई में बिहार डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव भी अब मैदान में कूद चुके हैं.  तेजस्वी शत्रुघ्न सिन्हा के समर्थन में उतर आये हैं. उन्होंने शत्रुघ्न सिन्हा के ट्वीट पर एक के बाद एक लगातार 3 ट्वीट किये. जिसमे उन्होंने सुशील मोदी को आड़े हाथो लिया है. 

शत्रुघ्न सिन्हा के ट्वीट जिसमे पार्टी को ईमानदार पार्टी बताते हुए कहा कि बीजेपी हमेशा से ईमानदारी और पारदर्शिता और सबको साथ लेकर चलने में विश्वास करती है. शत्रुघ्न ने ये भी कहा कि जबतक साक्ष्य ना हो किसी पर आरोप लगाना ठीक नहीं है. इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा कि यह बिलकुल सही है. एक आरोप महज आरोप और विशुद्ध झूठ का पुलिंदा ही रहता है जबतक कि साबित ना हो जाए. पर कुछ लोगो की राजनीति ही आरोप लगाने पर ज़िंदा है. 



वहीं तेजस्वी ने अपने अगले रिट्वीट में कहा है कि झूठे आरोप लगाने वाला बिहार बीजेपी का वह नेता सभी रंगो में झूठ बोलने का विशेषज्ञ है. वह शायद Selective Amnesia व रंग दृष्टिहीनता का शिकार है.

तेजस्वी ने सुशील मोदी द्वारा शत्रुघ्न सिन्हा को भाजपा का शत्रु बुलाये जाने पर भी सवाल खड़ा करते हुए कहा कि अगर वो आपको शत्रु बुलाते हैं तो वो सुशील कैसे हैं. दरअसल उन्हें जनता द्वारा चुने गए नेताओं जैसे आप, कीर्ति आजाद और अन्य नेताओं से प्रॉब्लम है.  

दरअसल, शत्रुघ्न सिन्हा ने एक के बाद एक 4 ट्वीट करते हुए जहां लालू प्रसाद के बचाव में उतर आये वहीं सुशील मोदी को नसीहत भी देने लगे. शत्रुघ्न सिन्हा ने बेनामी संपत्ति पर रोज चल रहे बयानबाजी से गुस्से में आये शॉटगन ने कहा कि अब निगेटिव पॉलिटिक्स बंद होनी चाहिए.   शत्रुघ्न ने ये भी कहा कि जबतक साक्ष्य ना हो किसी पर आरोप लगाना ठीक नहीं है. मामला लालू प्रसाद के बेनामी संपत्ति से जुड़ा है. शत्रु के ट्वीट के बाद तो सुशील मोदी ने भी पलटवार कर दिया उन्होंने कहा जिस जिस लालू की बेनामी संपत्ति के बचाव में नीतीश नहीं उतरे उसके बचाव में भाजपा के ‘शत्रु’ कूद पड़े. साथ ही उन्होंने शत्रुघ्न सिन्हा को गद्दार बताते हुए पार्टी से भी निकाले जाने की मांग कर दी है.

यह भी पढ़ें-  लालू के बचाव में आगे आये शत्रुघ्‍न सिन्‍हा, सुमो बोले – गद्दारों को घर से निकालो