अब बीजेपी के इस नेता ने लॉ एंड ऑर्डर पर उठा दिया सवाल, दरभंगा में ज्वेलरी दुकान लूट के लिए प्रशासन को बताया जिम्मेवार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क :  दरभंगा के सबसे बड़ी ज्वेलरी दुकान को अपराधियों ने दिनदहाड़े लूट लिया है. जिससे प्रशासन में हड़कंप मच गया. मौके पर पहुंचे बीजेपी विधायक संजय सरावगी ने लूट को प्रशासन की चूक करार दिया . उन्होंने लूट के लिए प्रशासन को जिम्मेवार ठहराते हुए कहा कि सूचना देने के 25 मिनट बाद पुलिस मौके पर पहुंची. इतने पास में पुलिस चौकी होने के बावजूद भी अपराधियों ने दुकान को सरेआम लूट लिया, और सूचना के बाद भी पुलिस मौके पर करीब आधे घंटे बाद पहुंची.

विधायक ने यह भी कहा कि यह घटना प्रशासन के मुंह पर एक करारा तमाचा है. अपराधियों को प्रशासन का खौफ नहीं रह गया है. अपराधि बे-रोक टोक किसी भी घटना को अंजाम दे रहे हैं, और पुलिस प्रशासन इन लोगों पर नकेल कसने में विफल साबित है. जिससे अपराधी अपने मंसूबे में कामयाब हो रहे हैं.



ज्वेलरी दुकान
बाबू राम, एसपी सिटी दरभंगा

बिहार में एनडीए की सरकार होने के बावजूद पुलिस प्रशासन पर सवाल उठाए जाने के प्रश्न पर संजय सरावगी ने कहा कि सच को कोई छिपा नहीं सकता है. जो सभी के सामने घटनाएं घटित हो रही है, उसे झूठा नहीं साबित किया जा सकता है. इसके पहले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल ने भी प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े किए थे.

बता दें कि दरभंगा के सबसे बड़े ज्वेलरी की दुकान को अपराधियों ने लूट लिया है. लूट के दौरान अपराधियों ने जमकर फायरिंग की है. नगर थाना के बड़ा बाजार की घटना है. लूट से इलाके में हड़कंप मच गया है. बताया जा रहा है कि 8 से 10 की संख्या में अपराधी थे. जो सुबह सवा दस बजे वारदात को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती दी है. इतना ही नहीं लगभग 25 से 30 राउंड ताबड़तोड़ फायरिंग भी हुई है. जिससे इलाके में सनसनी फैल गई है. लोग डरे सहमे हैं.

सीसीटीवी फुटेज

पूरा मामला दरभंगा जिला अंतर्गत नगर थाना क्षेत्र के बड़ा बाजार का है. जहां सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक 8-10 की संख्या में अपराधियों ने दुकान पर धावा बोल दिया, और लगभग 5 करोड़ रुपए लूट लिए. जिसके दुकान से लूट हुई है उस व्यवसायी का नाम सुनील लट बताया जा रहा है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है.

कारोबारी सुनील लट इस वारदात में बाल-बाल बच गए हैं. सीसीटीवी फुटेज में अपराधी दुकान से बाहर आराम से पहले निकलते नजर आ रहे हैं. कुछ देर बाद जब अंदर से दुकान के कर्मी पकड़ने की कोशिश करते हैं, तो वो भागते हुए दिख रहे हैं. इस साल की सबसे बड़ी लूट की घटना है . जहाँ अपराधियों ने बीस राउंड के आसपास फायरिंग भी की है.