अरे वाह ! अब मोबाइल एप से होगी स्कूल-कॉलेजों में परीक्षा, जानिए पूरा प्रोसेस

लाइव सिटीज डेस्क : भारत में धीरे-धीरे सभी तरह की परीक्षाएं ऑनलाइन होती जा रही है. फिर भी कई तरह की परीक्षाएं कागज वाले प्रश्न-पत्र पर भी आयोजित की जाती हैं. खास कर स्कूल कॉलेज की  परीक्षा अभी प्राचीन तरीके से ही की जा रही है. यानी कागज कॉपी और कलम. लेकिन अब छात्र भी स्मार्ट हुए जा रहे हैं. अभी तक तो इंटरनेट और कंप्यूटर के सहयोग से ही ऑनलाइन परीक्षा को आयोजित किया जा रहा है. लेकिन जरा सोचिए अगर अब परीक्षा मोबाइल फोन से होने लगे तो कैसा रहेगा.

जी हां प्रश्न-पत्र मोबाइल पर मिलेगा. यानी हार्ड कॉपी की जगह सॉफ्ट कॉपी के रूप में.कहा जा रहा है कि इससे कागज की बर्बादी और छपाई पर होने वाला खर्च समाप्त हो जाएगा. नोएडा स्थित एमजीएम कॉलेज ने यह ऑनलाइन क्वेश्चन पेपर डिस्ट्रीब्यूशन ऐप (ऐप्लीकेशन) विकसित की है. खास बात यह है कि इस प्रोजेक्ट में खुद मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने रुचि दिखाई है. मंत्रालय को आइडिया इतना पसंद आया कि सरकार फंडिंग को तैयार हो गई. जून में हमने चार छात्रों के साथ काम शुरू किया था और अब ऐप्लीकेशन तैयार है. इसका सफल ट्रायल भी हो चुका है. हमने इसे पेटेंट के लिए भेज दिया है. पेटेंट के बाद एमएसएमई इस ऐप्लीकेशन के व्यापक स्तर पर इस्तेमाल की रूपरेखा तैयार करेगा. CM नीतीश ने की शुरुआत, अब जमीन मामलों की इस बड़ी प्रॉब्लम का निदान एक क्लिक पर



क्लास रूम में परीक्षा देती छात्राएं

वर्तमान समय में परीक्षार्थी परीक्षा कक्ष में मोबाइल नहीं ले जा सकते हैं. यह प्रतिबंध परीक्षार्थी को नकल या चीटिंग करने से रोकने के लिए है. लेकिन यदि नया प्रयोग अमल में आया तो परीक्षार्थी को अपना मोबाइल सेट लेकर परीक्षा कक्ष में पहुंचना होगा.क्योंकि प्रश्न-पत्र उसके मोबाइल पर ही प्रकट होगा. इस ऐप्लीकेशन की खूबी यह है कि परीक्षा के दौरान मोबाइल के अन्य सभी फीचर स्वतः ब्लॉक हो जाएंगे. यानी केवल और केवल प्रश्न-पत्र को देखने के अलावा मोबाइल का कुछ और इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा. कॉलिंग, मैसेजिंग और इंटरनेट सर्फिंग जैसी सभी सुविधाएं स्वतः ब्लॉक हो जाएंगी. परीक्षा समाप्त होने के बाद ही ये सुविधाएं शुरू होंगी.

अगर आप सोच रहे हैं कि कैसे होगी मोबाइल पर परीक्षा तो जानिए… परीक्षार्थी के मोबाइल पर वेबलिंक भेज कर मोबाइल को सेंट्रल सर्वर से कनेक्ट किया जा सकेगा. परीक्षा कक्ष में पहुंचने के बाद परीक्षार्थी को मोबाइल पर एक कोड भेजा जाएगा. कोड को सर्वर की वेब लिंक में डालते ही मोबाइल सर्वर से कनेक्ट हो जाएगा. सर्वर के जरिए यह ऐप परीक्षार्थी के मोबाइल पर एक्टिव हो जाएगा. इसके एक्टिव होते ही मोबाइल सेट की अन्य सभी सुविधाएं स्वतः ब्लॉक हो जाएंगी. मोबाइल की स्क्रीन पर केवल प्रश्न-पत्र नजर आाएगा. परीक्षार्थियों को कागज की उत्तर पुस्तिकाओं में प्रश्न-पत्र हल करना होगा. परीक्षा का निर्धारित समय समाप्त होते ही मोबाइल सर्वर से डिसकनेक्ट हो जाएगा. प्रश्न-पत्र मोबाइल में सेव रहेगा.