‘एक वो था ज़माना जब लालूजी को चारा पड़ा था पचाना’

lalu-33
लालू प्रसाद (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में राजनेता इन दिनों कवि हो गए हैं. कविताओं के माध्यम से ही अब जोरदार हमला चल रहा है. वार-पलटवार का खेल चल रहा है. शुरुआत बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम  तेजस्वी यादव ने की तो पलटवार जदयू से भी हुआ. उसी कविता के अंदाज में. कल गुरुवार को जदयू प्रवक्ता संजय सिंह और नीरज कुमार ने कविता के माध्यम से हमला बोला.

तेजस्वी के एक कविता को ट्वीट करते हुए नीरज कुमार ने भी हमला बोला है. उन्होंने लालू प्रसाद पर निशाना साधा है. नीरज कुमार ने लालू प्रसाद के चारा घोटाला, जंगलराज की चर्चा की तो साथ ही एनडीए ससरकार के सुशासन की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि जब लालू प्रसाद चारा पचा गए थे तो अब हर्जाना चुकाना ही पड़ेगा.



niraj-kumar
नीरज कुमार (फाइल फोटो)

अब आप पढ़ें नीरज कुमार की कविता  तेजस्वी के बारे में बता रहा है JDU, कहा सुन तेजस्वी सुन, तुझ में है कितने गुण

एक वो था ज़माना जब लालूजी को चारा पड़ा था पचाना

अब चल रहा कानून का चाबूक हर्जाना पड़ेगा चुकाना

आपके जंगल राज में मर रहे थे मर्द विधवा हो रही थी जनाना

हमारी सरकार ने ज़िन्दगी को पहचाना हमने पेश किया सुशासन का नज़राना

घोटाले का पाई पाई पड़ेगा चुकाना जल्द ही आप सब को जेल पड़ेगा जाना

बता दें कि इससे पहले तेजस्वी यादव ने यह कविता लिखी थी जिस पर नीरज कुमार ने हमला बोला

बिहार में महा-महाजंगलराज

सरकार बतायें जंगली कौन?

राज्य में हाहाकार

चहुँओर हत्या-बलात्कार

शहर में दहशत,गाँव में ग़दर

2 दिन में 20 मर्डर

सीएम मस्त, जनता पस्त

सरेआम सुशासन की पराजय

ढिंढोरा है क़ानून के राज का

वहीं जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने तो तेजस्वी पर बहुत कुछ कह डाला. उन्होंने कहा कि तेजस्वी अपने पिता लालू प्रसाद से घोटाला सीख रहे हैं. और घोटाले को आगे बढ़ा रहे हैं. वे खेल में भी फ्लॉप रहे. और लौट के घर आ गए.