पीएम केयर्स फंड में राशि जमा कराने के बाद ही शराब बेचने या पीने वालों को मिलेगी जमानत, पटना हाईकोर्ट ने दिया आदेश

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क: बिहार में शराब पीने या बेचने के जुर्म में अगर कोई गिरफ्तार होता है तो उसे पीएम केयर्स फंड में रूपए जमा कराने होंगे. रूपए जमा कराने के बाद ही उन्हे जमानत दी जाएगी. पटना हाईकोर्ट के जस्टिस अंजनी कुमार शरण ने कई जमानत याचिकाओं की सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया है. बताया जा रहा है कि कोर्ट से इस फैसले से पीएम केयर्स फंड को करीब 3 लाख रूपए मिलेंगे.

दरअसल प्रफुल्ल कुमार की जमानत याचिका पर पटना हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. जिसमें याचिकाकर्ता ने कहा कि जिस गाड़ी से शराब बरामद किया गया है, उससे याचिकाकर्ता का कोई लेना देना नहीं  है. क्योंकि वह गाड़ी का ऑनर है और मौके पर मौजूद भी नहीं था. उसका ड्राइवर गाड़ी चला रहा था. उसे इस मामले में गलत ढंग से फंसाया जा रहा है.

याचिकाकर्ता की दलील को जस्टिस अंजनि कुमार शरण ने बड़े ही गौर सुना उसके बाद 20 हजार रूपए के मुचलके पर रिहा करने का आदेश दिया. कोर्ट ने अपने आदेश में निचली अदालत को निर्देश दिया कि उसके बांड पत्र तभी स्वीकार किया जाए, जब वह पीएम केयर फंड में राशि जमा कराने की रसीद दिखाए.

जस्टिस शरण ने अलग अलग मामलों में शराब बरामद होने के हिसाब से राशि जमा कराने की सहमति देने वाले अभियुक्तों को जमानत देना स्वीकार किया.