विधानसभा में उठा मॉब लिंचिंग का मामला, विपक्ष ने कानून बनाने की रखी मांग

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार विधानसभा के मॉनसून सत्र में लगातार हंगामों का दौर जारी है. चमकी बुखार और बढ़ते क्राइम को लेकर विपक्ष लगातार सरकार पर हमलावर रहा है. वहीं आज भी विधानसभा के मॉनसून सत्र के दसवें दिन भी विधानसभा में कार्यवाही शुरु होते ही विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया.

मॉब लिंचिंग को लेकर हंगामा

मॉब लिंचिंग को लेकर विपक्ष ने विधानसभा परिसर में नारेबाजी की. भाकपा माले, कांग्रेस और आरजेडी के विधायकों ने सीएम नीतीश कुमार से पूरे मामले पर जवाब मांगा. बता दें कि सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले ही विधानसभा परिसर में विपक्षी दलों ने मॉब लिंचिंग के मामले पर जमकर हंगामा किया.

केंद्र सरकार को भी भेजेंगे प्रस्ताव

विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले ही मॉब लिंचिंग को लेकर राजद कांग्रेस, भाकपा माले ने सवाल किया. सभी विपक्षी दलों ने राज्य की नीतीश सरकार से मॉब लिंचिंग को लेकर विधानसभा में कानून बनाने की मांग की. प्रदर्शन कर रहे नेताओं ने कहा कि इसके लिए केंद्र सरकार को भी प्रस्ताव भेजेंगे. बैनर पोस्टर के साथ माले के नेताओं ने सीएम नीतीश पर आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी के राज में इस तरह की घटनाएं बढ़ गई हैं और नीतीश कुमार मौन हैं.

विधानसभा में उठा फर्जी राशन कार्ड का मामला

वहीं विधानसभा के अंदर विपक्ष ने फर्जी राशन कार्ड का मामला भी उठाया. आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र ने कहा कि बिहार में 9 लाख 57 हजार राशन कार्ड फर्जी है. इनमें से सिर्फ लगभग 2 लाख 12 हजार फर्जी कार्ड ही रद्द किए जा सके हैं. भाई वीरेंद्र के सवाल पर जवाब देते हुए खाद्य आपूर्ति मंत्री मदन साहनी ने कहा कि सभी फर्जी राशन कार्ड धारियों का राशन रोक दिया गया है. आरजेडी विधायक ने इस जवाब का विरोध किया. विधानसभा अध्यक्ष ने कहा अगर सबूत है तो सरकार मामले की जांच कराएगी.

अली अशरफ फातमी ने CM नीतीश की तारीफ करते कहा- कब्रिस्तानों की घेराबंदी सराहनीय काम

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*