विधानसभा चुनाव से पहले शिक्षकों को सरकार की ओर से तोहफा, पंचायत और नगर निकाय टीचर्स के वेतन में वृद्धि

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा चुनाव नजदीक है और ऐसे में सरकार ने शिक्षकों के लिए खुशखबरी का पिटारा खोल दिया है. बिहार सरकार ने सूबे के 3.57 लाख पंचायत और नगर निकाय शिक्षकों के वेतन में 15 प्रतिशत की दर से 3000 से 4650 रुपए तक प्रति माह वेतन वृद्धि करने का फैसला किया है. यह वेतन उन्हें अप्रैल 2021 मिलेगा.

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही पंचायती राज के अंतर्गत आने वाली शिक्षण संस्थाओं और नगर निकायों के शिक्षकों के लिए नई सेवा शर्त नियमावली को राज्य मंत्रिमंडल की मंजूरी दी गई थी. इसके अनुसार तीन लाख से अधिक शिक्षकों को कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) का लाभ सितंबर, 2020 से दिया जाएगा. वहीं अब सरकार के आज फैसले के बाद इन शिक्षकों के मूल वेतन में 15 प्रतिशत की वृद्धि भी होगी, जिसका लाभ इन्हें एक अप्रैल, 2021 से मिल पाएगा.



नीतीश सरकार ने शनिवार को शिक्षकों की वेतन में वृद्धि करने का फैसला किया. इसके तहत बिहार शिक्षा विभाग ने पंचायती राज और शहरी स्थानीय निकायों के शिक्षण संस्थानों में कार्यरत शिक्षकों और पुस्तकालयाध्यक्षों के वेतन में वृद्धि होगी.