‘मैं 5 साल में दूंगा 40 लाख रोजगार’ चुनावी सभाओं में पप्पू यादव ने कर दिया दावा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : प्रोग्रेसिव डेमोक्रेटिक एलायंस (पीडीए) के संयोजक पप्पू यादव ने शुक्रवार को अपनी प्रतिज्ञा दौरा के दौरान जमुई, नवादा, औरंगाबाद, भोजपुर, अरवल और गया में चुनावी सभाओं को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने पीडीए उम्मीदवारों के समर्थन में जनता से वोट करने की अपील की.

जमुई में पीडीए प्रत्याशी शमशाद आलम के लिए चुनावी सभा कर पप्पू यादव ने कहा कि  दुनिया में सबसे अधिक बेरोजगारी बिहार में है. इसलिए हम अगले 5 सालों में 40 लाख नए रोजगार के अवसर देने के लिए प्रतिबद्ध हैं. बिहार में किसानों की हालत बुरी है. पढ़ाई व रोजागार के लिए युवा और मजदूर पलायन को मजबूर हैं.



30 साल आपने लालू-नीतीश को दिया, तीन साल पप्पू को दीजिए. तीन साल के भीतर प्रतिज्ञा पत्र के अनुरूप काम नहीं हुआ तो राजनीति से संयास ले लूंगा. मेरी लड़ाई आपको डर – अभाव से बाहर निकालने की है. सत्ता की मलाई खाने के लिए नहीं.

वहीं नवादा के वारसलीगंज विधानसभा में पीडीए के उम्मीदवार संजय कुमार यादव के पक्ष में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि सत्ता में आने के दो साल के भीतर हर स्नातक पास युवाओं को 30 हज़ार की नौकरी देंगे. नियोजित और संविदा पर बहाली नहीं होगी. सभी नियुक्तियां स्थायी रुप से की जाएगी. गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले हर परिवार के घर में 7 किलो आटा, 40 किलो चावल, 5 किलो दाल और 5 लीटर तेल, महीने के 28 तारीख को घर पहुंच जाएगा ताकि किसी गरीब को भूखा नहीं सोना पड़े.

भ्रष्टाचार और महिला सुरक्षा की बात करते हुए जाप अध्यक्ष ने कहा कि हम सीसीटीवी कैमरे लगायेंगे ताकि सरकारी दफ्तरों में भ्रष्ट अधिकारीयों को पकड़ा जा सके. जिस दिन हमारी सरकार बनी उसी दिन बालू और भू माफियों को जेल भेज दिया जाएगा. महिलाओं के खिलाफ अपराध करने वालों को किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाएगा. स्पीडी ट्रायल कर ऐसे अपराधियों को जल्द-जल्द से सजा मिलेगी. इससे एक भय मुक्त समाज का निर्माण होगा और महिलाएं स्वतंत्र होकर अपना काम कर पाएगी.

सत्ता पक्ष और विपक्ष के नेताओं पर हमला बोलते हुए पप्पू यादव ने कहा कि चाहे बाढ़ हो या कोरोना महामारी, हमारी पार्टी हर विपरीत परिस्थिति में आम जनता के बीच रही और लोगों तक मदद पहुंचाई. आज सभी के दलों के हेलीकॉप्टर से वोट मांगने के लिए घूम रहे हैं. जब जनता के राशन और काम नहीं था तब ये लोग कहां थे?

पप्पू यादव ने कहा कि भाजपा बीमारी में भी फॉरवर्ड-बैकवर्ड और हिन्दू-मुस्लिम ढूंढ लेती है. इन सब से नरेंद्र मोदी अपने नाकामियों को छिपाना चाहते हैं. 1 लाख 60 हज़ार करोड़ के पैकेज का पैसा आज तक नहीं मिला.