पप्पू यादव करवा रहे हैं डेंगू एवं मलेरिया की निःशुल्क जांच, सैंकड़ों की संख्या में पहुंच रहे लोग

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पटना में जलजमाव की आपदा के बाद जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के द्वारा कंकड़बाग के मलाही पकड़ी और राजेंद्र नगर के वैशाली मोड़ पर लोगों के स्वास्थ्य संबंधी जांच तथा इलाज के लिए लगाए गए मेगा मेडिकल कैंप में आज चौथे दिन भी बड़ी संख्‍या में लोगों ने जांच करवाई.

इसमें आज डॉ. नूर आलम,  डॉ. ऋषि चौधरी, डॉ. रितेश राज, डॉ. परमेश्वर रंजन, डॉ. अरविंद के अलावा सहायक अनुज कुमार, अनिता देवी, परिजात मिश्रा एवं समाजसेवी आदित्य चंदेल ने सैकड़ों की संख्‍या में मरीजों का इलाज किया.

शिविर में इलाज के साथ दी जा रही है दवाई भी

मरीजों के बेहतर इलाज के लिए जाप के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद के नेतृत्व में प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता श्याम सुंदर,  प्रदेश महासचिव सह सदस्यता प्रभारी संदीप सिंह समदर्शी,  स्वास्थ्य प्रभारी राकेश कुमार पंडित उर्फ मुन्ना, शिविर की देखरेख में लगे हैं, और मरीजों के बेहतर इलाज के लिए डॉक्टरों के साथ सहयोग कर रहे हैं.

दोनों शिविर में खास बात यह है कि समाज के सभी तबके एवं सभी वर्ग के लोग लाइन लगाकर इलाज करवा रहे हैं. दोनों शिविर में डेंगू एवं मलेरिया की जांच निःशुल्क की जा रही है. शिविर में डॉक्टरी सुविधा के साथ-साथ दवा की भी सुविधा भी प्रदान की जा रही है.

जनता नेताओं की घड़ियाली आंसू को पहचान चुकी है

वहीं, पार्टी नेताओं ने कहा कि जल कर्फ्यू के समय भाजपा और जदयू के नेता एक-दूसरे के प्रति नूरा-कुश्ती का खेल सिर्फ जनता के बीच भ्रम बनाए रखने के लिए खेल रहे हैं. राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद ने कहा कि जल कर्फ्यू के समय भाजपा के नेता राजेंद्र नगर और कंकड़बाग में सहायता और राहत कार्य पहुंचाने की जगह अपने आलीशान बंगलों में रह रहे थे और आज जब सब कुछ ठीक हो गया तो घड़ियाली आंसू बहाने के लिए केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद से लेकर भाजपा के सभी विधायक राजेंद्र नगर में  कर राजनीतिक लाभ का वातावरण तैयार कर रहे हैं, लेकिन बिहार और पटना की जनता नेताओं के इन घड़ियाली आंसू को अच्छी तरह से जान-पहचान चुकी है.

बिहार को NDA ने बना दिया है सर्कस, कुत्ते-बिल्ली की तरह झगड़ रही है बीजेपी-जेडीयू