बिहार में 2 अक्टूबर को स्कूल खुलने से गुस्से में पेरेंट्स

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में 2 अक्टूबर को सभी स्कूल खुले रहेंगे. यानी गांधी जयंती पर कई सालों से मिल रही छुट्टी अब खत्म. इस दिन गांधी जयंती पर स्वच्छता अभियान पर स्कूलों में कई कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. लेकिन सरकार के इस फैसले से बच्चों के अभिभावकों में नाराजगी देखी जा रही है.इस दिन विद्यालय खोलकर बापू आापके द्वार, दहेज प्रथा एवं बाल विवाह उन्मूलन के अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ शपथ ग्रहण एवं ग्राम समृद्धि व स्वच्छता पखवाड़ा मनाया जाएगा.
हालांकि सरकारी स्कूलों को सिर्फ अनिवार्य रूप से खुला रखना है. वहीं प्राइवेट स्कूलों से आग्रह किया गया है कि वे भी स्कूलों की छुट्टी रद्द कर कार्यक्रम का आयोजन करें. लेकिन सरकार के इस निर्णय पर अभिभावक खुश नहीं हैं. उन्होंने कहा है कि अगर यह निवारी नहीं है तो हम इस दिन अपने बच्चों को स्कूल भेजना नहीं चाहेंगे. DAV और माउंट कारमेल स्कूल में पढने वाले बच्चे के पेरेंट्स निशा सिंह कहती हैं कि सरकार क्यों अपने प्रोपेगेंडा के तहत बच्चों पर बोझ डाल रही है ?

एक अन्य पेरेंट दीपक कुमार ने भी नाखुशी जाहिर करते हुए कहा कि सरकार ने इससे पहले भी यही किया. शराब बंदी को लेकर मानव श्रृंखला बनाने के लिए भी बच्चों को शामिल कर लिया गया. नतीजा यह हुआ कि इस कार्यक्रम में कितने बच्चे बेहोश हो गए तो एक बच्चे की तो एक्सीडेंट में मौत भी हो गई. एक अन्य स्कूल में पढ़ रहे बच्चे के अभिभावक ने कहा कि सरकार यह फैसले एकदम अंतिम समय में लेती है. तब तक हमलोग अपना ट्रेवल प्लान बना लिए होते हैं. ऐसे में परेशानी बढ़ जाती है. ये सब पॉलिटिकल ड्रामा है.

बता दें कि सभी जिलों के डीईओ ने इसको लेकर सभी बीईओ, जिले के सभी एचएम, प्रभारी एचएम, उच्च माध्यमिक, माध्यमिक, उत्क्रमित विद्यालय, मध्य विद्यालय एवं प्राथमिक विद्यालय को निर्देश जारी किया है. प्रभातफेरी सुबह सात से आठ बजे के बीच, ग्राम समृद्धि एवं स्वच्छता पखवाड़ा कार्यक्रम नौ से 11 बजे तक तथा दहेज प्रथा एवं बाल विवाह उन्मूलन के अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ शपथ ग्रहण 11 से 12 बजे के बीच आयोजित किया जाएगा.

यह भी पढ़ें-  सफाई हो या पढ़ाई बिहारियों का जवाब नहीं, यहां के 2 बच्चों को पीएम करेंगे पुरस्कृत

Patna में चलिए Sangeeta, यहां TV के साथ TV फ्री मिल रहा है अभी

मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी

RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू

चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)