भक्त चरण दास के सामने जमुई कांग्रेस कार्यालय में भिड़ गए पार्टी नेता, जमकर चले लात-घूसे, पुलिस ने किया बीच-बचाव

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : जमुई (Jamui) में भक्त चरण दास (Bhakat Charan Das) के समाने ही कांग्रेस (Congress ) कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए. वो भी ऐसा वैसा नहीं बल्कि देखते ही देखते लात-घूसा तक चलने लगा. थोड़ी ही देर में जिला कांग्रेस कार्यालय पूरी तरह रणक्षेत्र में तब्दील हो गया. मंच पर ही धक्कामुक्की की स्थिति बनते देख वहां मौजूद पुलिस को भी बीच-बचाव के लिए आना पड़ा. करीब एक घंटे तक यह सब चलता रहा. किसी तरह मामले को शांत किया जा सका.

दरअसल जमुई के पार्टी कार्यालय में किसान सत्याग्रह पदयात्रा कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. इस दौरान बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास के साथ कई बड़े नेता मौजूद थे. अभी पदयात्रा को लेकर रणनीति ही बन रही थी कि पूर्व विधायक बंटी चौधरी और सिकंदरा इलाके के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए. पूर्व विधायक बंटी चौधरी ने कांग्रेसी कार्यकर्ता धर्मेंद्र पासवान का निर्दलीय चुनाव लड़ने का मामला उठाया, इसी बात पर जमकर हंगामा हुआ.

हंगामे की वजह से बैठे हुए लोग भी खड़े हो गए और बरामदे में पहुंच गए. हंगामे में हाथापाई तक की नौबत आ गई थी. लेकिन पार्टी के नेताओं के बीच-बचाव के बाद मामला शांत हुआ और फिर बिहार प्रदेश प्रभारी भक्त चरण दास समेत पार्टी नेताओं ने संगठन और कार्यक्रम को लेकर अपनी बातें कहीं. जब भक्त चरण दास से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि यह पार्टी के अंदर की बात है. कार्यकर्ताओं में कुछ नाराजगी थी, मतभेद था, जिसे खत्म कर दिया गया है.