जांच रिपोर्ट नहीं सौंपने पर CBI को हाईकोर्ट की फटकार, एसपी जेपी मिश्रा के तबादले पर भी उठाया सवाल

लाइव सिटीज, पटना : आज पटना हाईकोर्ट में मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप मामले की सुनवाई अब सोमवार को की जाएगी. दरअसल, इस मामले में आज सीबीआई को कोर्ट में जांच स्टेटस रिपोर्ट सौंपना था. लेकिन सीबीआई की और से यह रिपोर्ट कोर्ट में समिट नही की गई. जिसके बाद पटना हाईकोर्ट ने सीबीआई को फटकार लगाई है. साथ ही सोमवार तक शेल्टर होम मामले की जांच की रिपोर्ट पेश करने को कहा है. जस्टिस एमआर शाह की खंडपीठ ने सुनवाई के दौरान यह भी सवाल उठाया कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में आख़िर किस आधार पर जांच के दौरान ही सीबीआई के एसपी और जांच अधिकारी को बदल दिया गया ?

कोर्ट ने यह भी कहा कि पूरी जांच रिपोर्ट आखिर कैसे मीडिया में लीक हो जा रही है, अगर इसी तरीके से इस जांच की सारे अहम सूत्रधार लीक होते रहे तो निश्चित तौर पर इस पूरे जांच पर असर पड़ेगा. और दोषी आराम से बच जाएंगे.कोर्ट ने इन सभी का जवाब सोमवार तक सरकार से मांगी है. पटना हाई कोर्ट के महाधिवक्ता ललित किशोर ने इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि अब इस मामले में सुनवाई 27 अगस्त यानी सोमवार को की जाएगी.

बता दें कि चीफ जस्टिस एम आर शाह की खंडपीठ इस मामले पर सुनवाई करने वाली थी. लेकिन आज यह सुनवाई टल गई है. अब सोमवार चीफ जस्टिस एमआर शाह की खंडपीठ इस बात की समीक्षा करेगी कि मुजफ्फरपुर मामले में अब तक जांच की प्रोग्रेस क्या है. बता दें कि आज कोर्ट में सीबीआई इस मामले की जांच की प्रगति रिपोर्ट पेश करेगा.

मालूम हो कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड की जांच कर रहे पटना के सीबीआई एसपी जेपी मिश्रा का तबादला कर दिया गया है. जेपी मिश्रा की जगह लखनऊ के सीबीआई एसपी देवेंद्र सिंह को अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. मुजफ्फरपुर कांड की जांच को तेज गति से आगे बढ़ाने वाले जे पी मिश्रा को पटना के DIG ऑफिस में ट्रांसफर कर दिया गया है.

बता दें कि मुजफ्फरपुर मामले में सीबीआई जांच की जिम्मेदारी मिलते ही एसपी जेपी मिश्रा एक्शन में आ गए थे. मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन उत्पीड़न कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर से जुड़े हर पॉलिटिकल व्यक्ति तक वे पहुंच रहे थे. उन्होंने पूर्व मंत्री मंजू वर्मा से भी पूछताछ की साथ ही उनके पति चंद्रशेखर वर्मा को CBI की जांच के ज़द में लाया.

मुजफ्फरपुर महापाप व बिहिया कांड ने नीतीश सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है

लेकिन जांच को तेज गति से आगे बढ़ा रहे जेपी मिश्रा के तबादले से कई सवाल भी उठने लगे हैं. जे पी मिश्रा का तबादला पटना रेंज के डीआईजी कार्यालय में किया गया है. लखनऊ में पदस्थापित CBI के एसपी देवेंद्र सिंह को जे पी मिश्रा की जगह पटना CBI एसपी का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है.

गौरतलब है कि इस मामले के सामने आते ही विपक्ष ने जोरदार हंगामा किया था. वहीं सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट ने भी इस मामले में स्वतः संज्ञान लिया था. जिसके बाद सरकार ने भी सीबीआई जांच के आदेश दे दिए थे. इस मामले में अब तक काफी तेज कार्रवाई हुई है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*