पटना निकाय चुनाव : हंगामे की बीच सिर्फ 46% मतदान, 130 अरेस्ट, 98 वाहन जब्त

लाइव सिटीज डेस्क : पटना नगर निगम चुनाव संपन्न हो चुका है.  रविवार के दिन 75 वार्डों में हुए वोटिंग में कुल 46%  लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया.  मतदान अधिकतर जगहों पर शांतिपूर्ण रहा तो कुछ जगहों पर हंगामे भी किये गए. राजधानी पटना में कई दिग्गज नेताओं ने भी अपने वार्ड में जा कर मताधिकार का प्रयोग किया.

संडे को हुए मतदान के दौरान हंगामे एवं चुनाव नियमावली के विरुद्ध गतिविधि कर रहे लोगों पर पटना पुलिस ने कार्रवाई की. प्राप्त जानकारी के अनुसार कुल 130 लोगों को गिरफ्तार किया गया. वहीं 98 वाहनों को भी जब्त किया गया.

कई वार्ड में वोटिंग के दौरान प्रत्याशियों और उनके समर्थकों के बीच हाथापाई, हंगामे की भी ख़बरें आईं.  वार्ड नंबर 9, 10, 19, 20, 21 वार्ड में विवाद होने की वजह से प्रत्याशियों और उनके समर्थकों ने हंगामा कर दिया. जिसके बाद पुलिस ने सभी को दौड़ा दौड़ा कर पिटाई भी की. पटना नगर निगम में 50% से भी कम मतदान को लेकर भी खूब चर्चा छिड़ी. 

चूँकि यह राजधानी पटना का निकाय चुनाव था तो कई दिग्गज नेताओं ने भी अपने वार्ड में जाकर मतदान किया. जिसमें राज्यपाल रामनाथ कोविन्द , राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद, राबड़ी देवी, बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव, राज्यसभा सांसद मीसा भारती समेत कई अन्य नेताओं ने निकाय चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग किया.

बता दें कि इस बार नगर निगम चुनाव में तकरीबन 15 हजार कर्मचारियों को लगाया गया. निगम में लगभग 1512 मतदान केंद्र बनाये गये थे. जिला प्रशासन ने चुनाव में 20 पोलिंग बूथों को मॉडल पोलिंग बूथ भी बनाया.  चुनाव आयोग ने मतदाताओं के लिए एक नया सिस्टम भी तैयार किया था. इस सिस्टम के जरिये यह मालूम किया जा सकता था कि मतदाता ने किस बूथ पर किसे मतदान किया था.  इसके लिए  मतदाता को अपने वोटर आइडी पर अंकित इपिक नंबर डालना था.

यह भी पढ़ें-  बीमार लालू की सेहत सुधरी, बूथ पर पहुंचे वोट डालने