पटनाः जलजमाव ने उजाड़े घर, अब दाने-दाने को मोहताज हैं पटना के लोग, उतरे सड़क पर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः बिहार की राजधानी पटना में बारिश और फिर बारिश से पैदा हुए खतरनाक हालात पर अब बवाल काटा जा रहा है. पटना की सड़कों पर आम लोगों के साथ ही साथ राजनीतिक दल प्रदर्शन कर रहे हैं. बिहार की सीएम नीतीश कुमार की सरकार का विरोध कर रहे हैं. इसी कड़ी में आज सोमवार को भी खूब नारेबाजी पटना के सड़कों पर हुई है. दरअसल लेफ्ट की तरफ से राजधानी में हुए जलजमाव के ऊपर हिसाब मांगा गया. हाथ में लाल झंडों के साथ लेफ्ट के वर्कर उतरे थे.

इस दौरान नीतीश सरकार का विरोध कर रहे लोगों ने कहा कि पटना में जलजमाव ने सबकुछ खत्म कर दिया. लोगों के मकान खराब हो गए. अनाज और कपड़े सड़ गए. वहीं बिहार सरकार की ओर से कुछ नहीं किया जा रहा है. लोगों का जीना मुहाल हो गया है. गरीबों की कोई मदद करने वाला नहीं है. गरीब बस्तियों में दवा का छिड़काव भी नहीं किया जा रहा है. पटना में डेंगू का कहर जारी है. इस बीच अगर ऐसे हालात बने हैं तो लोग बीमारियों का शिकार होंगे.

पटना की बहू ने बिहार का नाम किया रोशन, जीता ग्लोबल एक्सेलेंस अवार्ड का खिताब

इस दौरान लोगों की ओर से मांग भी रखी गई सरकार के सामने. कहा गया कि सरकार फौरन सभी परेशान लोगों को 50 किलो अनाज और 6 हजार की मुआवजा राशि प्रदान करे. वहीं मेडिकल कैंप भी लगवाए जाएं. ताकि लोग अपना इलाज करवा सके. वहीं यह भी कहा गया कि सभी को सही से सरकार को ट्रीट करना चाहिए. इसी मांग को लेकर सभी लोग डीएम कुमार रवि से मुलाकात करने पहुंचे.

बिहार में डेंगू का कहर, एक दिन में रिकॉर्ड 136 मरीजों की हुई पुष्टि, दहशत में हैं लोग

पटना में बारिश से बिगड़े थे हालात

आपको बता दें कि पिछले दिनों पटना में बारिश कहर बनकर बरसी थी. इसके बाद से ही पटना और आसपास के इलाकों में भारी जलजमाव हो गया. लोग घर में ही कैद हो गए थे. वहीं गरीब बस्तियों में तो मकान भी ध्वस्त हो गए थे. अब पानी तो उतर गया लेकिन अपने पीछे बीमारी का खतरा छोड़ गया है.