पटना में रविशंकर तो नवादा में गिरिराज बैठेंगे उपवास पर, संसद नहीं चलने पर जताएंगे नाराजगी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः बजट सत्र के हंगामे की भेंट चढ़ने से नाराज़ बीजेपी सांसद अपने-अपने चुनाव क्षेत्रों में आज गुरुवार को उपवास करेंगे. साथ ही पार्टी के बड़े नेता और मंत्री देश के विभिन्न शहरों में उपवास पर बैठेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद दिल्ली में अपने दफ़्तर में उपवास पर रहेंगे. इधर केंद्रीय मंत्री जे पी नड्डा वाराणसी और रविशंकर प्रसाद पटना में उपवास रखेंगे. राजनाथ सिंह और धर्मेन्द्र प्रधान दिल्ली में, निर्मला सीतारमण चेन्नई में, प्रकाश जावडेकर बेंगलूरू में, एम जे अकबर विदिशा और के जे एलफांस केरल में उपवास करेंगे.

बीजेपी में कौन-कौन कहां उपवास करेगा

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी – डिफेंस एक्सपो में हिस्सा लेंगे.
  • बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह – कर्नाटक के हुबली में.
  • गृह मंत्री राजनाथ सिंह – नई दिल्ली
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज – नई दिल्ली
  • पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान – नई दिल्ली
  • रेल मंत्री पीयूष गोयल – नई दिल्ली
  • विनय सह्रबुद्धे – नई दिल्ली
  • केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु, मेनका गांधी और सांसद मीनाक्षी लेखी – दिल्ली के हनुमान मंदिर.
  • कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद – पटना
  • गिरिराज सिंह – बिहार के नवादा
  • राधा मोहन सिंह – मोतिहारी
  • मुख्तार अब्बास नकवी – रांची
  • रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण – चेन्नई
  • मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर – बेंगलुरु
  • महेश शर्मा – नोएडा
  • जेपी नड्डा – वाराणसी
  • थावरचंद गहलौत – इंदौर
  • वीरेंद्र सिंह – हरियाणा के जींद,
  • केजे अल्फोंस – केरल
  • एमजे अकबर – विदिशा
  • नारायण राणे – महाराष्ट्र
  • ओपी माथुर – ओडिशा
  • भूपेंद्र यादव – अजमेर

बीजेपी अपने उपवास को लोकतंत्र बचाने की कवायद बता रही है, लेकिन उसका असली मकसद पूरे देश में उपवास के बहाने अपनी ताकत दिखाना है. भाजपा सांसदों को संबोधित करते हुए मोदी ने विपक्ष और खासतौर पर कांग्रेस पर विभाजनकारी राजनीति करने का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा कि संसद में गतिरोध के विरोध में भाजपा सांसद 12 अप्रैल को उपवास रखेंगे.

यह भी पढ़ें-

लोकतंत्र बचाने के लिए आज उपवास पर बैठेगी सरकार, कांग्रेस ने कहा- ड्रामा है

कांग्रेस ने भाजपा के कार्यक्रम से पहले ही देश में सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देने के लिये नौ अप्रैल को पार्टी सदस्यों के एक दिन का उपवास करने की घोषणा की थी. भाजपा के सभी सांसद 12 अप्रैल को अपने – अपने संसदीय क्षेत्रों में उपवास रखेंगे. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह उसी दिन कर्नाटक के हुबली में धरना देंगे.

कांग्रेस ने पीएम मोदी के उपवास को बताया ढोंग

वहीं कांग्रेस ने पीएम मोदी के उपवास को ढोंग बताया था. कांग्रेस ने मंगलवार को कहा था कि संसद के बजट सत्र में काम बाधित किये जाने के विरोध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गुरुवार को एक दिन का उपवास करने की घोषणा ‘ढोंग’ है.

 

About Md. Saheb Ali 4917 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*