एक हफ्ता में जाम मुक्त होगा पटना, जिला प्रशासन ने पूरा ब्लूप्रिंट तैयार कर लिया..जान लीजिए

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क : पटना को जाममुक्त राजधानी बनाने के लिए जिला प्रशासन ने कमर कस लिया है. इसके लिए आज पटना प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने सभी विभाग के अधिकारियों के साथ घंटों बैठक की. बैठक में राजधानी में स्मूथ ट्राफिक कैसे हो, इसपर विस्तार से चर्चा की गयी. सभी अधिकारियों ने अपने-अपने सुझाव भी देने का काम किया.

बैठक बाद प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने कहा कि पटना को जाम मुक्त करने के लिए जिला प्रशासन की ओर से विशेष अभियान चलाया जाएगा. जो पूरे एक हफ्ता चलेगा. स्पेशल धावा का गठन किया गया है. जिसमें सभी विभाग के सिनियर अधिकारी शामिल होंगे.



दो दिन बाद से शुरू होने वाले विशेष अभियान में सभी तरह की समस्याओं का निदान किया जाएगा. ट्राफिक व्यवस्था में आ रही दिक्कतों की पहचान कर उसे संबंधित विभाग के अधिकारी दूर करेंगे. राजधानी में चार सिटी एसपी हैं जो अपने-अपने क्षेत्र की मॉनिटरिंग करेंगे. शहर के विभन्न चौक चौराहों पर सघन वाहन जांच अभियान चलायी जाएगी.

सघन वाहन जांच में गाड़ियों की पड़ताल, कागजों की जांच की जाएगी. इस दौरान गड़बड़ी पकड़े जाने पर गाड़ियों को जब्त किया जाएगा. गलत तरीके के पार्किंग करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा. वैसे वेंडर्स जो सीमा से बाहर अपनी दुकानें लगाते हैं उनकी पहचान कर कार्रवाई की जाएगी.

प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने यह भी बताया कि वेंडिंग जोन को रेगुलेट किया जाएगा. नगर निगम को अस्थायी वेंडिंग जोन का निर्माण करने का निर्देश दिया गया है. नमामि गंगे के तहत जहां तहां जो सड़कें खोदी गयी है उसकी समीक्षा की जाएगी. साथ ही नमामि गंगे के अधिकारियों को पुराने जगहों पर काम खत्म करने के बाद ही नयी सड़कों की खुदाई करने की अनुमति दी जाएगी.

कहीं-कहीं पर ट्राफिक व्यवस्था को वनवे किया जाएगा. इसके लिए एसडीओ और एसडीपीओ को निर्देश दिया गया है कि वो अपने-अपने क्षेत्र में जगहों की पहचान करें. जगहों की पहचान कर उसकी रिपोर्ट आने के बाद उस क्षेत्र में वन वे किया जाएगा.