शुरू हो गया रोटी बैंक : रात में रोटी बांटने निकले पटना के युवा

roti3

लाइव सिटीज डेस्क : पटना में रोटी बैंक की शुरूआत हो गई. आपको बता दें कि पटना गरीब बच्चों के लिए मुफ्त शिक्षा का केंद्र ‘ज्ञानशाला’ संचालित कर जनसेवा कर रहे ऋषिकेश नारायण सिंह ने सड़कों के किनारे फुटपाथ पर खुले आसमान के नीचे दिन और रात गुजारने वाले गरीब गुरबों के भूख को शांत करने के लिए रोटी बैंक की स्थापना का संकल्प लिया था. उस संकल्प को आज हकीकत में उतारने का दिन था.

शहर में कोई भूखा न सोए इस संकल्प के साथ आरंभ की गई रोटी बैंक का आज औपचारिक शुभारंभ था. औपचारिक समारोह ऋषि द्वारा गरीब बच्चों के लिए संचालित मुफ्त शिक्षा केंद्र ‘ज्ञानशाला’ के दो केंद्रों में से एक जो पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल परिसर स्थित स्कूल में संचालित ​होता है, में आयोजित था. भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी हर किशोर राय ने दीप प्रज्ज्वलित कर इस पवित्र अभियान का शुभारम्भ किया.

roti6

इस अवसर पर कौन बनेगा करोड़पति के विजेता रह चुके सुशील कुमार भी उपस्थित थे. उद्घाटन कार्यक्रम में मुफ़्त शिक्षा केन्द्र ‘ज्ञानशाला’ में पढ़ने वाले बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति भी दी. नन्हें—मुन्ने बच्चों की सांस्कृतिक प्रस्तुति ने समारोह में उपस्थित सज्जनों का मन मोह लिया.

इस अवसर पर ऋषि ने लोगों से रोटी एवं अन्य खाद्य सामग्री लेकर आने की अपील की थी. उनकी अपील को लोगों ने काफी गंभीरता से लिया और 300 से ज्यादा रोटियां इकट्ठी हो गईं.

कार्यक्रम के बाद पटना के सड़कों पर जरुरतमंदों के बीच देर रात तक इसका वितरण किया गया. रोटी का वितरण मुख्यत: अशोक राजपथ, गांधी मैदान एवं इनकम टैक्स के आसपास के जरूरतमंदों के बीच हुआ. ऋषिकेश ने बताया कि कल से प्रतिदिन घरों से रोटी/भोजन का संग्रहण होगा तदुपरांत जरूरतमंदों के बीच वितरण होगा. ऋषि कहते हैं कि गरीबों को इस बात पर यकीन नहीं हो रहा था कि पटना में ऐसा भी कुछ किसी ने शुरू किया है.

यह भी पढ़ें –
पटना में शुरू हो रहा है ‘रोटी बैंक’, गरीब अब भूखे नहीं सोएंगे !