सतर्क हो जाए बिहार के इन दो जिलों के लोग, मौसम विभाग के अनुसार अगले तीन घंटे पड़ सकते हैं भारी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : इनदिनों मौसम अचानक करवट ले रहा है. कहीं हल्की बारिश तो कहीं वज्रपात से जान माल की क्षति हो रही है. बिहार में अभी तक वज्रपात से मरने वालों की संख्या करीब तीन सौ को पार कर चुका है. मौसम विभाग की ओर से जिलों को अलर्ट जारी किया जाता रहा है. एकबार फिर बिहार के इन दो जिलों को मौसम विभाग ने अर्लट जारी किया है.

बिहार के इन दो जिलों में अगले तीन घंटे भारी पड़ने वाले है. मौसम विभाग ने पटना और भोजपुर जिले को अलर्ट किया है. विभाग ने इन जिलों को चेतावनी दी है. अगले तीन घंटे इन दो जिलों में हल्की बारिश और वज्रपात हो सकती है. मौसम विभाग ने इन जिलों के लोगों को अलर्ट कर दिया है.



बीते 26 जून को ठनका से सबसे अधिक 96 लोगों की मौत हुई. उस दिन तक मार्च से लेकर 26 जून तक 212 लोगों की मौत ठनका से हो गई थी. इसके बाद भी ठनका का कहर अब भी जारी है. 30 जून को 11 तो 2 जुलाई को 26 लोगों की मौत हो गई.

मौत के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए आपदा प्रबंधन में लोगो से बारिश होने के समय घरों में या सुरक्षित स्थानों पर रहने की अपील की है. आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से वज्रपात से बचने के उपाय बताए हैं.

-बिजली गिरने के दौरान मजबूत छत वाला पक्का मकान सबसे सुरक्षित है.

-घरों में तड़ित चालक लगवाएं

-बिजली से चलने वाले उपकरण बंद कर दें.

-यदि किसी वाहन पर सवार हैं तो तुरंत सुरक्षित जगह चले जाएं.

-टेलीफोन, बिजली के पोल के अलावा टेलीफोन और टीवी टावर से दूर रहें.

-कपड़ा सुखाने के लिए तार का प्रयोग ना कर जूट या सूत की रस्सी का उपयोग करें.

-किसी इकलौते पेड़ के नीचे नहीं जाएं.

-यदि जंगल में हैं, तो बौने (कम ऊंची पेड़) और घने पेड़ों के नीचे जाएं.

-दलदल वाले स्थानों और जलस्रोतों से दूर रहने की कोशिश करें.

-गीले खेतों में हल चलाने या रोपनी करने वाले किसान और मजदूर सूखे स्थानों पर जाएं.

-ऊंचे पेड़ के तनों या टहनियों में तांबे का एक तार बांधकर जमीन में काफी गहराई तक दबा दें ताकि पेड़ सुरक्षित हो जाए.

-नंगे पैर फर्श या जमीन पर कभी खड़े ना रहें.बादल गर्जन के दौरान मोबाइल और छतरी का प्रयोग न करें.

-आंधी-बारिश व तूफान के दौरान तत्काल बाद घर से बाहर न निकलें. देखा गया है कि बादल गर्जन व तेज बारिश के होने के 30 मिनट बाद तक बिजली गिरती है.

-अगर कहीं कोई तेज बारिश में फंस जाएं तो अपने हाथों को घुटनों पर और सिर को घुटनों के बीच में रखें.इससे शरीर को कम-से-कम नुकसान होगा.

-घरों के दरवाजे व खिड़कियों पर पर्दा लगा देना चाहिए.

-बादल गर्जन और बारिश के दौरान घर के नल, टेलीफोन ,टीवी और फ्रिज आदि न छूएं.

-बारिश में दो पहिया वाहन, साइकल, नौका और दूसरे खुले वाहन में हों, तो तत्काल रोककर सुरक्षित स्थान पर चले जाएं.

-बिजली और टेलीफोन के पोल के नीचे न खड़े हों.उस दौरान खेतों में खड़े न हों.