पटना के पीएमसीएच में आज से शुरू होगा प्लाज्‍मा थेरेपी से मरीजों का उपचार, मिलेगी विशेष सुविधा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (पीएमसीएच) में बुधवार से गंभीर रूप से पीड़ित कोरोना संक्रिमत मरीजों का इलाज प्लाज्‍मा थेरेपी से भी किया जाएगा. इसका निर्णय मंगलवार को प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित रोगी कल्याण समिति की बैठक में लिया गया.

प्रमंडलीय आयुक्त ने पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के प्राचार्य और अधीक्षक आदि के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक कर अस्पताल में कोविड-19 से संबंधित इलाज का सुचारू एवं सुदृढ़ व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया.



आयुक्त ने बताया कि पटना एम्स व एनएमसीएच में प्लाज्मा थेरेपी से इलाज की शुरुआत की जा चुकी है. पीएमसीएच में प्लाज्मा डोनेट करने की सुविधा नहीं है, इसलिए आइजीआइएमएस से सीनियर डॉक्टर की देख-रेख में डोनेट प्लाज्मा को पीएमसीएच लाया जायेगा और इलाज होगा.
पीएमसीएच हेल्प डेस्क के माध्यम से इच्छुक डोनर प्लाज्मा डोनेट करने के लिए संपर्क कर सकते हैं. आयुक्त ने अपील है कि अपना प्लाज्मा डोनेट कर मरीजों की जान बचाने के लिए आगे बढ़ें. ऐसे कोरोना योद्धाओं को जिला प्रशासन सम्मानित करेगा. उन्होंने बताया कि पीएमसीएच, एनएमसीएच में मरीजों को पीने के लिए गर्म पानी देने के लिए मशीन लगायी गयी है. अब कोरोना के हर मरीज को थर्मस दिया जायेगा.

प्लाज्मा थेरेपी में कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों के शरीर से लिए गए प्लाज्मा को कोराना के एक्टिव मरीजों के शरीर में डाला जाता है, जिससे उस मरीज के शरीर में कोरोना से लड़ने की एंटीबॉडी बन जाती है. पटना, एम्स एवं एन एम सी एच में यह सफलतापूर्वक किया जा रहा है. आईजीआईएमएस के साथ समन्वय करते हुए अब पीएमसीएच में प्लाजमा थेरेपी से मरीजों का ईलाज किया जाएगा.