पीएम मोदी बाढ़ और कोरोना को लेकर राज्य के मुख्यमंत्रिय़ों के साथ कर रहे हैं समीक्षा बैठक, CM नीतीश भी जुड़े

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा है. हर दिन आंकड़े बढ़ते ही जा रहे है. देश के अलग-अलग हिस्सों में बाढ़ की स्थिति और कोरोना कि बेकाबू रफ्तार को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत कर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी जुड़े हुए हैं.

सीएम नीतीश कुमार एक अन्ने मार्ग से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े हुए हैं. उनके साथ जल संसाधन मंत्री संजय झा और आला अधिकारी भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े हैं. राज्य भर में आई बाढ़ की समीक्षा की जा रही है. बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत कार्य पर चर्चा की जा रही है.



इस बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद हैं. प्रधानमंत्री ने बिहार में बाढ़ की स्थिति को लेकर विस्तार से जानकारी ली जा रही है. पीएम साथ हो रही बैठक अहम है. जिससे केंद्र से राज्यों को विशेष मदद मिल सकती है.

बता दें कि बिहार में बाढ़ का खतरा बढ़ता ही जा रहा है. बाढ़ से अबतक 16 जिलों में 74 लाख से ज्यादा की आबादी प्रभावित हुई है. आपदा प्रबंधन विभाग से रविवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चम्पारण बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. इसके अलावा पश्चिम चंपारण, खगड़िया, सारण, समस्तीपुर, सिवान, मधुबनी, मधेपुरा एवं सहरसा जिले भी बाढ़ से प्रभावित हैं.

विभाग के मुताबिक इन जिलों के 125 प्रखंडों की 1232 पंचायतों में 74 लाख से अधिक आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है. बाढ़ के कारण विस्थापित हुए लोगों को भोजन कराने के लिए 1267 सामुदायिक रसोई की व्यवस्था की गयी है, दरभंगा जिला में सबसे अधिक 15 प्रखंडों की 220 पंचायतों में 20 लाख से अधिक की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है.