‘अब लोगों को मोदी पर नहीं, बल्कि हार्दिक, अल्पेश, कन्हैया कुमार पर भरोसा है’

लाइव सिटीज डेस्क : गुजरात में बीजेपी को जीत भले ही मिल गई हो. लेकिन जीत के आंकड़े जरूर खराब हो गए हैं. अब इस पर राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो गई है. और लगातार जारी है. जहां एक ओर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की वाहवाही हो रही है. वहीं बीजेपी और पीएम मोदी की खूब आलोचना हो रही है. खुद राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी को गुजरात में झटका लगा है. इसके बाद अब गुजरात के तीन युवा नेता जिग्नेश, अल्पेश और हार्दिक पटेल ने पीएम मोदी पर हमला बोला है. दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने तो पीएम मोदी को राजनीति से रिटायर होने की सलाह भी दे डाली है.

दलित नेता जिग्नेश मेवाणी जिन्होंने चुनाव में जीत भी दर्ज की है कहा कि पीएम मोदी अब बूढे़ हो गए हैं, वह वही अपनी पुराने बोरिंग भाषण लोगों को सुना रहे हैं. उन्हें अब ब्रेक लेना चाहिए और रिटायर हो जाना चाहिए. हमने उन्हें विकास और नौकरी के मुद्दे पर चैलेंज किया था.



पीएम मोदी

मेवाणी ने कहा कि अब लोगों को मोदी पर नहीं, बल्कि हार्दिक, अल्पेश, कन्हैया कुमार पर भरोसा है. उन्होंने कहा कि 2019 के चुनावों में दलित समाज के लोग बीजेपी के खिलाफ वोट देंगे. मेवाणी ने कहा कि चुनाव में भले ही बीजेपी जीती हो, लेकिन हमारी नैतिक जीत हुई है. जिग्नेश ने कहा कि मोदी जी को हिमालय पर चले जाना चाहिए और वहां जाकर हड्डियां गलाना चाहिए.

वहीं ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर ने कहा कि हम सदन में जाएंगे तो ईमानदार लोगों की आवाज़ रखेंगे. जो लोग चुनाव से पहले 150+ की बात कर रहे थे कि उन्हें हम 99 पर ले आए हैं. कांग्रेस को 46 से 80 पर ले आए हैं. इस बार हम लड़े तो हैं.

हार्दिक ने कहा कि मैं बीजेपी को जीत के लिए बधाई नहीं दूंगा, मैं खुश हूं कि 25 साल बाद गुजरात में एक विपक्ष खड़ा हुआ है. मैं कोई नेता नहीं हूं, बल्कि आंदोलनकारी हूं. जिग्नेश और अल्पेश विधानसभा में जाकर जनता की आवाज़ उठाएंगे ऐसी हमें उम्मीद है. अल्पेश ठाकोर से अपील करूंगा कि वे पाटीदार का आरक्षण का मुद्दा विपक्ष के नाते उठाएं.