मन की बात में बोले पीएम मोदी- कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, मास्क का इस्तेमाल जरूर करें

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले से तय कार्यक्रम के मुताबिक दोपहर 11 बजे रेडियो के माध्यम से ‘मन की बात’ कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किए. इस दौरान उन्होंने विभिन्न मुद्दों पर अपनी बात देश के साथ साझा की. साथ ही उन्होंने बिहार और असम में भी बाढ़ के साथ- साथ कोरोना महामारी की चुनौतियों का भी जिक्र किया. साथ ही पीएम मोदी ने दसवीं और बारहवीं की परीक्षा में सफल कुछ छात्र-छात्राओं से बात कर उन्हें शुभकामनाएं दीं.

पीएम मोदी ने अपने मन की बात के दौरान मिथिला पेंटिंग के साथ- साथ असम में बांस से सामान बनाकर आत्मनिर्भर बन रहे लोगों की कहानी भी देश के साथ साझा की. पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लोगों से कोरोना महामारी से आजादी का संकल्प लेने की अपील की. उन्होंने कहा कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, इसलिए मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि करगिल का युद्ध जिन परिस्थितियों में हुआ वो भारत कभी भूल नहीं सकता है. पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे पालकर भारत की भूमि हथियाने और अपने अपने यहां चल रहे आंतरिक कलह से ध्यान भटकाने के लिए दुस्साहस किया था.

हमारा देश आज जिस ऊंचाई पर है वो कई ऐसी महान विभूतियों की तपस्या की वजह से है, जिन्होंने राष्ट्र निर्माण के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया. उन्हीं महान विभूतियों में से एक हैं लोकमान्य तिलक. 1 अगस्त 2020 को लोकमान्य तिलक जी की 100वीं पुण्यतिथि है. लोकमान्य तिलक जी का जीवन हम सभी के लिए बहुत बड़ी प्रेरणा है. हम सभी को बहुत कुछ सिखाता है.

पीएम मोदी ने कहा कि बारिश का मौसम है. पिछली बार भी मैंने आप से कहा था कि बरसात में गन्दगी और उनसे होने वाली बीमारी का खतरा बढ़ जाता है. अस्पतालों में भीड़ भी बढ़ जाती है, इसलिए आप साफ़-सफ़ाई पर बहुत ज्यादा ध्यान दें.