LIVE: पीएम मोदी का संबोधन शुरू, कहा- बिहार को नई ऊंचाई पर लेकर जाना है

लाइव सिटीज डेस्क : अब प्रधानमंत्री का संबोधन शुरू हो गया है.  वे मंच से पीयू शताब्दी समारोह में  अपना स्पीच दे रहे हैं.

  • पटना यूनिवर्सिटी के कार्यक्रम में शामिल होने वाले पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- यह मेरे लिए सौभाग्य की बात.
  • पीएम मोदी ने कहा कि गंगा धारा की प्राचीन विरासत को संजो रहा है बिहार. शिक्षा में नालंदा और विक्रमशिला विवि के योगदान को कोई नहीं भूल सकता.
  • पीएम मोदी ने कहा कि बिहार को नई उंचाइयों पर ले जाना है. हमें सिर्फ टीचिंग से नहीं बल्कि लर्निंग से आगे बढ़ना है.
  • पीएम मोदी ने कहा कि पूर्व के प्रधानमंत्रियों ने हमारे लिए कुछ अच्छे काम का मौका छोड़ कर गये और आज मुझे ये मौका मिला है कि मैं इस एतिहासिक विश्वविद्यालय के शताब्दी दिवस में मौजूद हूं, यहां के छात्रों को संबोधित करने का मौका मिला है। देश के पहले पांच लोगों में पटना विवि के छात्रों का नाम आता है, यह एक बड़ी बात है।
  • पीएम मोदी बोले- आगे बढ़ना है तो दिमाग को खोलकर इनोवेशन के क्षेत्र में मेहनत करनी होगी. आज दुनिया बहुत तेजी से बदल रही है
  • पीएम मोदी ने कहा कि इनोवेशन, प्रोजेक्ट्स और स्टार्टअप्स के बल पर देश आगे बढ़ रहा है. नौजवान भारत के सपने भी जवान हैं. यह हमारी ताकत है.
  • पीएम मोदी ने पटना यूनिवर्सिटी को केंद्रीय विश्विविद्यालय के दर्जा से आगे की सुविधा देने का भरोसा दिलाया.
  • पीएम मोदी ने कहा कि देश के 10 प्राइवेट और दस पब्लिक यूनिवर्सिटीज को 10 हजार करोड़ रुपये देकर स्वायत्त तरीके बनाया जाएगा वर्ल्ड क्लास.
  • यूनिवर्सिटी को सबसे आगे रखें यह चुनौती है.
  • आज दुनिया बहुत तेजी से बदल रही है
  • टीचिंग नहीं लर्निंग को आगे बढ़ाना है
  • जीवन को नई उचाइयों पर ले जाना वक्त की मांग
  • बिहार के पास  ऐतिहासिक विरासत है
  • हमारे देश के विश्व विद्यालय तेजी से आगे बढ़ रहे हैं
  • इनोवेशन में बहुत ताकत है
  •  भारत को लोग संपेरों वाला देश समझते हैं
  • देश को आगे बढ़ाने में युवाओं का योगदान

पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी दिवस समारोह में भाग लेने पीएम नरेंद्र मोदी पहुंच चुके हैं. पीएम के संबोधन से पहले डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी लोगों को संबोधित किया. सुशील मोदी के बाद सीएम नीतीश कुमार मंच पर आए और लोगों का संबोधित किया. सीएम नीतीश कुमार ने मंच पर पहुंचकर सबसे पहले पीएम नरेंद्र मोदी का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि पीयू के शताब्दी दिवस सारोह में शामिल होने के लिए पीएम का धन्यवाद.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि मैं इसी कॉलेज में पढ़ने आया था. उन्होंने कहा कि कैंपस और लॉन देखकर पुरानी यादें ताजा हो गईं. मुख्यमंत्री नीतीश ने अपनी यादें ताजा करते हुए कहा कि इस विश्वविद्यालय से मेरी गहरी यादें जुड़ी हैं. इसी यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग कॉलेज में मुझे पढ़ने के लिए मेरे पिताजी ने मेरा एडमिशन कराया और मैं भी इसका छात्र बना. मेरे पिताजी की दिली ख्वाहिश थी कि मैं इंजीनियर बनूं.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि पीयू के छात्र आज देश के महत्वपूर्ण पदों पर है. उन्होंने पीयू को केंद्रीय विश्वविद्यालय देने की प्रर्थना की. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार शिक्षा की गुणवत्ता की क्षेत्र में अच्छा काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि बिहार के लोग आपकी(पीएम) की तरफ आशा की नजरों से देख रहे हैं.

सीएम से पहले पटना यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने संबोधित किया. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि पटना यूनिवर्सिटी के इतिहास में मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं. जो इस गौरव के क्षण के साक्षी बने हैं.

उन्होंने कहा कि 1968 में जब मैं मैट्रिक पास किया तो यहां एडमिशन मिलना आसान नहीं था. इस यूनिवर्सिटी में नामांकन लेना हर छात्र का सपना हुआ करता था. एक समय पीयू को ऑक्सफ़ोर्ड ऑफ़ ईस्ट कहा जाता है. जिस मंच पर पीएम और सीएम एक साथ मौजूद हो. उस यूनिवर्सिटी के गौरव को लौटने से कोई नहीं रोक सकता है. उन्होंने कहा कि आइए संकल्प लें कि पटना यूनिवर्सिटी के गौरव को फिर से वापस लाएंगे.

इससे पहले यूनिवर्सिटी के कुलपति रासबिहारी ने कार्यक्रम का स्वागत भाषण दिया. इस मौके पर मंच पर केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद, राम विलास पासवान, उपेंद्र कुशवाहा समेत कई गणमान्य मौजूद हैं.

यह भी पढ़ें- 

कब तक रहेंगे किराये में : कीमतें बढ़ने के पहले खरीदें 9 लाख का फ्लैट, ऑफर में Gold Coin भी
पढ़ें, दीवाली से पहले सबसे बड़ा बम फोड़ने वाली रोहिणी को, जिससे डर गए हैं शाह और वे भी
Sorry चौबे जी, आपके कहने से AIIMS आए बिहारियों को वापस पटना नहीं भेजूंगा, करेंगे इलाज़
iPhone 8 पटना को सबसे पहले गिफ्ट करेगा चांद बिहारी ज्वैलर्स, सोने के सिक्के तो फ्री हैं ही
धनतेरस में करें रॉयल जूलरी की शॉपिंग, कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स